Thursday , October 18 2018

केरल: 40 साल बाद आई इतनी भीषण बाढ़, चारो तरफ मचा हडकंप

केरल में भारी बारिश और भूस्खलन से जनजीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त हो गया है। माना जा रहा है कि राज्य में 40 साल बाद इतनी भीषण बाढ़ आई है। लगातार तीसरे दिन भी बारिश का कहर जारी रहा। अब तक 29 लोगों की मौत हो चुकी है और करीब 54 हजार लोग बेघर हैं।

राहत और बचाव कार्य के लिए सेना की 8 टुकड़ियां लगाई गई हैं। साथ ही नेवी ने भी ऑपरेशन मदद शुरू कर दिया है। इसके अलावा एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीम भी जुटी हैं। भारी बारिश का अंदजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बीते 3 दिनों में राज्य के पांच शहर ऐसे हैं जहां सामान्य से 5 गुना ज्यादा बारिश हुई है। लोगों के लिए 439 राहत कैंप लगाए गए हैं।

तिरुवनंतपुरम और कोलम में रिकॉर्ड तोड़ बारिश

राज्य के तिरुवनंतपुरम में 620 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है जबकि कोलम को 594 फीसदी से ज्यादा बारिश का सामना करना पड़ रहा है। वहीं इड्डुकी में 430 फीसदी से ज्यादा बारिश हुई है। इतने सालों में ऐसा पहली बार हुआ जब इडुक्की बांध के पांच गेट खोलने पड़े। हर सेकेंड में इस बांध से 7.25 लाख लीटर पानी छोड़ जा रहा है। जिसकी वजह से पेरियार नदी में बाढ़ आ गई है और बांध 2403 फीट गहरा हो गया है।

400 से ज्यादा जवान तैनात

राज्य के अयानकुलु, इडुक्की और वायनाड में आर्मी के 400 से ज्यादा जवानों को तैनात किया गया है। 4 नेवी की टीमें और एक सी किंग हेलिकॉप्टर वायनाड में फंसे लोगों को निकालने में जुटा हुआ है।

11 जिलों में हाई अलर्ट, पर्यटकों को दूर रहने की सलाह

राज्य के 14 में से 11 जिलों में हाई अलर्ट जारी किया गया है और पर्यटकों को केरल से दूर रहने की सलाह दी गई है। केरल में शुक्रवार को 36.1 मिमी बारिश हुई जबकि 14.4 मिमी ही होनी चाहिए थी। इसका मतलब 150 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है। 1 जून से अब तक 20 फीसदी अधिक बारिश हो चुकी है। अभी तक 1839.8 मिमी बारिश दर्ज की गई है जबकि औसतन 1536.4 मिमी बारिश होनी चाहिए थी।
29 पहुंची मृतकों की संख्या

राज्य में मृतकों की संख्या 29 पहुंच गई है। इनमें से 25 की मौत भूस्खलन के कारण हुई है जबकि 4 की मौत डूबने से हुई। वहीं यहां के मशहूर पर्यटन स्थल मुन्नार में फंसे 54 पर्यटकों को सेना की मदद से बचा लिया गया है। इनमें से 20 विदेशी पर्यटक हैं। ये रूस, सऊदी अरब और ओनाम के रहने वाले हैं। फिलहाल सरकार ने पर्यटकों को केरल से दूर रहने को कहा है।

 केरल के इडुक्की जिले में मुन्नार स्थित रिजॉर्ट में 50 से ज्यादा पर्यटक पिछले दो दिनों से फंसे हुये हैं, जिनमें 24 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। भारी बारिश के चलते हुये भूस्खलन की चपेट में आने से रिजॉर्ट जाने वाली सड़क क्षतिग्रस्त हो चुकी है।

अधिकारियों ने बताया कि विदेशी पर्यटकों में रूस, सऊदी अरब और ओमान समेत कई देशों के पर्यटक शामिल हैं। केरल के पर्यटन मंत्री कदकम्पल्ली सुरेंद्रन ने कहा कि मुन्नार के पल्लीवासल में प्लम जुडी रिजॉर्ट के सभी पर्यटक सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सेना से सड़क को ठीक करने के लिए कहा है।

E-Paper

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com