Friday , August 17 2018

बांग्लादेश में खुले विचार रखने पर फिर एक लेखक की गोली मारकर हत्या

बांग्लादेश में फिर एक बार खुले विचार रखने और स्वतंत्र सोच जाहिर करने लिए एक लेखक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. बांग्लादेश के मुंशीगंज जिले में एक लेखक की अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी. ‘बीडीन्यूज24’ के अनुसार, बिशाखा प्रकाशिनी के मालिक शाहजहां बाचू को सोमवार को उनके पैतृक गांव ककाल्डी में दो मोटरसाइकल सवार चार हमलावरों ने गोली मार दी. शाहजहां की मौके पर ही मौत हो गई.

स्वतंत्र विचारों के लेखक के रूप में प्रसिद्ध शाहजहां बांग्लादेश की कम्युनिस्ट पार्टी के मुंशीगंज जिला इकाई के महासचिव रह चुके हैं. शाहजहां की बेटी दुरबा जहां ने फेसबुक पोस्ट में बताया कि उनके पिता को दो बार गोली मारी गई. इस हत्या के पीछे के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल पाया है लेकिन आशंका जाहिर की जा रही है कि लेखक के खुले विचारों के कारण ही उन्हें निशाना बनाया गया है.

तस्लीमा नसरीन ने की निंदा
बांग्लादेशी मूल की लेखिका और फिलहाल भारत में रह रहीं लेखिका तस्लीमा नसरीन ने भी इस हमले की कड़ी निंदा की है. नसरीन ने ट्वीट करते हुए कहा, ”एक नास्तिक कवि शाहजहां बाचू को इस्लामिस्ट आतंकियों ने बांग्लादेश में मार दिया, उन्हें जान का खतरा था लेकिन फिर भी सरकार ने कोई सुरक्षा नहीं दी.”

पहले भी हुए थे हमले
इससे पहले भी बांग्लादेश में अमेरिकी ब्लॉगर अविजीत रॉय की 26 फरवरी, 2015 को उस समय हत्या कर दी गई थी जब वह अपनी पत्नी के साथ एक पुस्तक मेले से लौट रहे थे. इस हमले में उनकी पत्नी घायल हो गई थी. अविजीत को भी अपने खुले विचारों के चलते निशाना बनाया गया था.

E-Paper

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com