आयुष्मान योजना गरीबों के लिए बनी संजीवनी बूटी

आयुष्मान कार्ड गरीबों को दे रहा  स्वास्थ्य सुरक्षा की गारंटी 

काशी में एक लाख कार्ड धारकों का 111 करोड़ 91 लाख रुपये का किया  जा चुका उपचार 

 कमजोर वर्ग के हर मर्ज की दवा है भाजपा की आयुष्मान भारत योजना है ।  

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी की महत्वाकांक्षी आयुष्मान योजना गरीबों के लिए सम्बल बनी हुई है। मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना और आयुष्मान योजना सिर्फ लोगों के जीवन  ही नहीं बचा रही है ,बल्कि जीवन की राह भी आसान कर रही है।

प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में अब तक एक लाख से अधिक लोगों तक इस योजना का लाभ पहुंच चुका है। भाजपा की डबल इंजन की सरकार कमजोर वर्ग  के लिए मसीहा बन कर सामने आई है। 

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ बेसहारा कमजोर वर्ग के लिए सहारा बने है जिनके पास इलाज़ के लिए पैसे नही है और व गंभीर बीमारियों में इलाज़ के अभाव में या तो दम तोड़ते है या बीमारी के साथ जीते रहते है। कभी-कभी गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए कर्जदार बन जाते है। कमजोर वर्ग के स्वास्थ संबंधित हर मर्ज की दवा है ,आयुष्मान भारत योजना ।  

आयुष्मान भारत योजना के जिला सूचना प्रणाली प्रबंधक नवेंद्र सिंह ने बताया कि जिले में 3,46,952 आयुष्मान कार्ड धारक हैं। इनमे एक लाख कार्ड धारकों का 111 करोड़ 91 लाख रुपये का उपचार किया जा चुका है। जिसमे से 82 करोड़ 52 लाख खर्च का भुगतान भी किया जा चुका है।

वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर कमजोर वर्ग की तैयार सूची में शामिल परिवार को आयुष्मान योजना का पात्र माना गया है । ऐसे पात्र परिवारों को आयुष्मान कार्ड (गोल्डन कार्ड) प्रदान कर एक तरह की स्वास्थ्य सुरक्षा की गारंटी प्रदान की जाती है। सरकारी के साथ ही निजी अस्पतालों में भी आयुष्मान भारत योजना सुविधा मिलती है ।

Related Articles

Back to top button
E-Paper