काम और कामगार सुविधा का सेतु बना सेवा मित्र

घर बैठे हुनरमंदों को प्रदेश सरकार देगी रोजगार

यूपी में कुल 1980 सेवा मित्रों को किया जा चुका पंजीकृत

26 सेवाओं की श्रेणी में अब तक दी जा चुकी कुल 3518 सेवाएं

लखनऊ

अब यूपी के हुनरमंदों को रोजगार तलाशने में परे‍शानियों का सामना नहीं करना होगा। प्रदेश सरकार ने सेवा मित्र पोर्टल व ऐप शुरू किया है जहां इन लोगों को पंजीकरण कराना होगा। सबको हुनर सबको काम इस आदर्श वाक्य के साथ शुरू किया गया सेवा मित्र एक डिजिटल प्लेटफार्म है। उत्तर प्रदेश श्रम एवं सेवायोजन विभाग तथा व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के संयुक्त प्रयासों से इस डिजिटल प्लेटफार्म को संचालित किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना का उद्देश्य इलेक्ट्रीशियन, कारपेंटर, ब्यूटीशियन, कुक, प्लंबर, ड्राइवर, नर्सिंग जैसी रोजमर्रा घरेलू सेवाएं देने वाले लोगों के रोजगार को प्रमाणित कर उन्हें स्थानीय स्तर पर रोजगार दिलाना है।

      जनता को अब एक क्लिक पर काम और कामगार सुविधाओं का सेतु सेवा मित्र बना है। डिजिटलीकरण के युग में डिजिटल दुनिया के साथ तेजी से कदमताल कर रहे यूपी में अब इस प्‍लेटफॉर्म से बेरोजगारों को नए अवसर दे रही है। कुशल कामगारों और जरूरतमंद उपभोक्ताओं को डिजिटल प्लेटफार्म पर मिलाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा महत्वाकांक्षी सेवा मित्र योजना शुरू की है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सेवा मित्र पोर्टल https://sewamitra.up.gov.in पर अथवा प्ले स्टोर पर उपलब्ध सेवा मित्र ऐप पर पंजीकृत स्किल्ड वर्कर्स को टैबलेट देने की घोषणा की गयी है। अब तक सभी जिलों में घरेलू सेवाओं की उपलब्‍धता पोर्टल पर पंजीकृत सेवाप्रदाताओं की संख्‍या 300 है। कुल 1980 सेवा मित्रों को पंजीकृत किया जा चुका है। इसके साथ ही 26 सेवाओं की श्रेणी में अब तक कुल 3518 सेवाएं दी जा चुकी हैं।

पहले करना होगा पंजीकरण

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सेवा मित्र पोर्टल https://sewamitra.up.gov.in पर अथवा प्ले स्टोर पर उपलब्ध सेवा मित्र ऐप पर पंजीकरण करना होगा। लोगों को जब इलेक्ट्रिशियन, ब्यूटीशियन, प्लंबर, एसी मैकेनिक, कंप्यूटर मैकेनिक तथा कारपेंटर आदि का काम करने वाले लोगों को तलाश होगी तो मोबाइल के एक क्लिक में आस-पास मौजूद ऐसे कुशल कामगारों को तलाश पाएंगे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper