कॅप्री ग्लोबल व हुरून इंडिया इम्पैक्ट 50 में भारत में काम कर रही 50 कंपनियों की रैंकिंग

लखनऊ, 22 अप्रैल, कॅप्री ग्लोबल कॅपिटल लिमिटेड और हुरून इंडिया ने साथ मिलकर 2021 कॅप्री ग्लोबल कैपिटल लिमिटेड हुरून इंडिया इम्पैक्ट 50 की घोषणा की है, जो संयुक्त राष्ट्र संघ के 17 सतत विकास लक्ष्यों के साथ तालमेल बिठाते हुए अपना कारोबार करने वाली उन शीर्ष 50 कंपनियों की सूची है, जिनके मुख्यालय भारत में स्थित हैं। हुरून रिसर्च ने 2021 हुरून इंडिया 500 मोस्ट वैल्यूएबल कंपनीज के साथ शुरुआत की, और वार्षिक वित्तीय रिपोर्ट, ई.एस.जी., सी.एस.आर., सस्टेनेबिलिटी रिपोर्ट और मीडिया रिपोर्टों सहित सार्वजनिक तौर पर उपलब्ध डेटा का उपयोग करके एक स्कोरकार्ड तैयार किया। स्कोरिंग की प्रक्रिया तय करने के लिए 5 सदस्यों वाले सलाहकार पैनल का गठन किया गया, जिसमें पेशेवरों से लेकर शिक्षाविदों तक विभिन्न विषयों के विशेषज्ञ शामिल थे।

कॅप्री ग्लोबल कॅपिटल लिमिटेड हुरून इंडिया इम्पैक्ट 50 की सूची में ग्रासिम इंडस्ट्रीज ने पहला स्थान हासिल किया, जिसे सस्टेनेबिलिटी के पैमाने पर कुल मिलाकर 47 अंक दिए गए जबकि  46 अंकों के साथ टेक महिंद्रा ने दूसरा स्थान हासिल किया, जिसके बाद इस सूची में टाटा पावर कंपनी को स्थान दिया गया। रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय कंपनियों ने जलीय जीवों की सुरक्षा को सबसे कम प्राथमिकता दी हैं। केवल अडानी पोर्ट और स्पेशल इकोनॉमिक ज़ोन के प्रलेखित औसतीय दस्तावेज़ों के अनुसार, दोनों कंपनियां इस लक्ष्य की ओर अग्रसर हैं।

हिंदुस्तान यूनिलीवर ने सतत विकास के सबसे ज़्यादा लक्ष्यों, यानी 8 लक्ष्यों को समय-सीमा के भीतर पूरा किया जिनका मूल्यांकन आंकड़ों की कसौटी पर किया जा सकता है, तथा इसके बाद आई.टी.सी. और टेक महिंद्रा ने सात-सात लक्ष्य हासिल किए।

Related Articles

Back to top button
E-Paper