कोरोना का कहर : वायरस की दूसरी लहर हो रही बेकाबू, संपूर्ण लॉकडाउन के बनने लगे आसार

नई दिल्ली। देश में कोरोना की दूसरी लहर बेकाबू होती दिख रही है। देश में फिलहाल एक दिन में 80 हजार से अधिक कोरोना मामले सामने आने लगे हैं। महाराष्ट्र, यूपी, पंजाब, गुजरात, दिल्ली समेत देश के आठ राज्यों में कोरोना की दूसरी लहर तेजी से बढ़ रही है। जानकारों का मानना है कि दूसरी लहर में कोरोना ज्यादा खतरनाक है, सिर्फ संक्रमितों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है बल्कि मृतकों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। इस कारण कोरोना के प्रसार पर लगाम लगाने के लिए देश के कई शहरों में लॉकडाउन लगाया जा रहा है। लॉकडाउन का दायरा हर रोज धीरे-धीरे शहर दर शहर देश में बढ़ रहा है। ऐसे में फिर ये सुगबुगाहट तेज हो गई कि क्या देश में फिर से लॉकडाउन लग सकता है ? फिलहाल पूरे देश में नहीं तो लेकिन कुछ राज्यों के कई शहरों में लॉकडाउन जरूर लगाया गया है।

महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं।  महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि अगर मौजूदा स्थिति बनी रही तो लॉकडाउन लगाने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है। पुणे में आज से आंशिक लॉकडाउन लगा दिया गया है। पुणे में एक हफ्ते के लिए 12 घंटों का कर्फ्यू लगाया गया है। आज शाम से एक सप्ताह के लिए हर रोज छह बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लगाया गया है। यहां हर तरह के मॉल और सिनेमा हॉल, रेस्टोरेंट, खाने की दुकानें आदि बंद रहेंगे। सिर्फ होम डिलीवरी की सेवा प्रदान की जाएगी। स्कूल कॉलेज को 30 अप्रैल के लिए बंद कर दिया गया है।

मध्यप्रदेश सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य के चार शहरों में लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया है। छिंदवाड़ा और रतलाम में लॉकडाउन एक अप्रैल को रात दस बजे से पांच अप्रैल की शाम छह बजे तक तथा बैतूल में दो अप्रैल की रात दस बजे से पांच अप्रैल की शाम छह बजे तक तथा खरगौन में दो अप्रैल की रात आठ बजे से पांच अप्रैल की शाम छह बजे तक लॉकडाउन रहेगा।

वहीं, छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिला प्रशासन ने जिले में छह से 14 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन लगाने का एलान किया है। छत्तीसगढ़ में पिछले 24 घंटों के दौरान 4174 नए लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि देश भले ही कोरोना की दूसरी लहर का सामना कर रहा है, लेकिन दिल्ली चौथी लहर का सामना कर रही है। इसके बाद भी राज्य सरकार लॉकडाउन लगाने पर विचार नहीं कर रही है। लेकिन उन्होंने कहा कि अगर भविष्य में इसकी जरूरत महसूस हुई तो जनता की राय से निर्णय लिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सख्ती बरती जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कक्षा आठ तक के सभी सरकारी और निजी स्कूलों को 11 अप्रैल तक बंद रखने के निर्देश दिए हैं। उत्तर प्रदेश में इस समय कोरोना संक्रमितों के 14,073 सक्रिय मामले हैं। पिछले 24 घंटे में प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सर्वाधिक 940 नये मामले सामने आये।

केंद्रीय कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने कोरोना की स्थिति पर शुक्रवार को सभी राज्यों के मुख्य सचिवों के साथ महत्वपूर्ण बैठक की। इस दौरान विशेष रूप से उन 11 राज्यों के हालात पर चर्चा की गई, जहां स्थिति चिंताजनक बताई गई है. इन राज्यों में महाराष्ट्र, पंजाब, दिल्ली, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, केरल, गुजरात, मध्य प्रदेश, हरियाणा, तमिलनाडु और चंडीगढ़ शामिल हैं।भारत में एक दिन में कोरोना के 81,466 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या 1,23,03,131 हो गई। पिछले छह महीने में सामने आए ये सर्वाधिक नए मामले हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper