घर का ताला तोड़ सामान चुरा रहे थे चोर, तभी नींद से जागे घरवाले और फिर…

मलिहाबाद। सोमवार रात चोरों ने भतोइया गांव में श्री कृष्ण के घर का ताला तोड़कर घर में रखा सामान उठाने का प्रयास कर रहे थे। तभी घर के लोग जाग गए और घेराबंदी कर शोर मचा दिया।  भतोइया में मौजूद पुलिस मौके पर पहुंची और शातिर चोरों को मौके पर ही घेर कर पकड़ लिया। चोरों के पास से दो बाइकें अवैध तमंचा कारतूस सरिया छुरियां बरामद हुई है। शातिर चोरों के खिलाफ मलिहाबाद, माल, काकोरी थानों में दर्जनों चोरियों के मुकदमे दर्ज हैं। पिछले दिनों हुई तीन चोरियों का पुलिस ने खुलासा कर आरोपियों को जेल भेज दिया है।

ग्राम भतोइया में 25 जुलाई की रात चोरों ने दो घरों राकेश और विजय के घर में कमरे का ताला तोड़कर लाखों रुपए के जेवर व नकदी पर हाथ साफ किया था। 27 जुलाई को ग्राम जिन्दौर मजरे शेर नगर गांव में शिवचरण के घर छत के रास्ते चोर दाखिल हुए घर में रखे ₹5000 नगद और जेवरात उठा ले गए थे। इससे पूर्व माल इलाके के गहेदो गांव में अंग्रेजी शराब के ठेके में सेंध लगाकर चोरों ने शराब की बोतले पार कर दी थी। इंस्पेक्टर मलिहाबाद सियाराम वर्मा ने बताया कि चोरी की वारदातें होने से पुलिस ने सतर्कता बढ़ा दी थी। जिसके चलते सोमवार रात भतो इया में चोरों अरविंद कुमार निवासी ग्राम ईसापुर थाना मलिहाबाद,  रामदीन निवासी ईशाहपुर थाना मलिहाबाद, साहबान निवासी अहमदाबाद कटौली मलिहाबाद, नफीस निवासी अहमदाबाद कटौली मलिहाबाद ,फिरोज निवासी दिलावर नगर थाना मलिहाबाद, रामकुमार निवासी आलम खेड़ा थाना औरास उन्नाव को चौकी प्रभारी द्वारिका प्रजापति एसआई चन्द्रवीर एसआई धर्मेंद्र यादव की टीम ने ग्रामीणों की मदद से भतोइया में डाले सहित गिरफ्तार किया है । चोरों के पास से अवैध तमंचा कारतूस  सोने चांदी के जेवरात व ₹12500 नगद बरामद हुए हैं ।पुलिस ने पड़ताल की तो पता चला कि इन चोरों का लंबा अपराधिक इतिहास है ।चोरों के खिलाफ माल मलिहाबाद काकोरी सहित कई थानों में दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं।

 ग्राम शेर नगर निवासी शिव चरण की पत्नी सुमन  ने चोरों को थाने में पहचाना। चोरी के दौरान नींद खुल जाने के कारण महिला की चोरों ने पिटाई भी की थी। महिला का सोने चांदी का जेवर बरामद हो गया है। सीओ मलिहाबाद नईम उल हसन ने बताया कि मलिहाबाद इलाके में लगातार चोरियां कर चोरों ने लोगों की नींद हराम कर दी थी। पुलिस की सतर्कता और ग्रामीणों की मदद से चोरों को गिरफ्तार करके जेल भेजा जा रहा है। डाले के आगे पीछे नंबर प्लेट पर अलग-अलग नंबर पड़े हुए थे। डाले के आगे यूपी 32 एमएन 2381 पीछे यूपी 32 एमएन 2571 लिखा हुआ था।

Related Articles

Back to top button
E-Paper