ज्‍योतिषाचार्य प्रेम चंद्र मिश्रा से जानिए अपना 16 से 31 अगस्त तक का राशिफल

16 से 31 अगस्‍त तक क्‍या कहते हैं आपके ग्रह-नक्षत्र। इसके बारे में विस्‍तार से बता रहे हैं ज्‍योतिषाचार्य प्रेम चंद्र मिश्रा…

मेष

मेष राशि वाले लोगों का सूर्य पंचम स्थान में होने से प्रतिष्ठा में वद्धि होगी। साथ ही आत्मबल भी बढ़ेगा। अपने परिवार में 18 अगस्त तक किसी भी कलेश से बचें एवं क्रोध पर नियंत्रण रखें। किसी भी सौदे को 18 अगस्त के बाद ही करें। 26 व 27 अगस्त को कोई भी अहम कार्य नहीं करना है। हनुमान जी का ध्यान करें और लाल पुष्प हमेशा साथ में रखें। केसर, जल के साथ मस्तक पर लगाएं।

वृष

इस राशि के लोगों के आत्मबल में कमी होगी तथा नकारात्मकत सोच में बढ़ोतरी होगी। घर पर होने वाले किसी भी कलेश से बचने का प्रयास करें। 19 व 20 अगस्त को किसी प्रकार का जोखिम न उठाएं। किसी भी कार्य को 20 अगस्त के बाद शुरु करना उचित रहेगा। पिता का स्वास्थ्य बाधित हो सकता है। सूर्य का पूजन करते हुए जल चढ़ाएं और गायत्री मंत्र का नियमित रुप से पाठ करें।

मिथुन

पराक्रम में व्रद्धि के साथ स्थिरता का योग है। आपका रुका धन वापस मिलने के पूर्ण आसार नजर आ रहे हैं। 21 व 22 अगस्त का दिन आपके लिए अच्छा नहीं रहेगा। इसके बाद में मास के अंत तक आपको लाभ होगा। भाई के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। गणेश जी का ध्यान करें और ओम गंगणपतये नमः मंत्र का जाप करें। साथ ही गणेश जी को दूर्वा का अर्पण करें।

कर्क

धन के मामले में सावधानी बरतने की आवश्यकता है। किसी से लेनदेन करते हुए सावधानी रखें। आपको अपने स्वास्थ्य की ओर ध्यान देना भी आवश्यक है। 24 एवं 25 अगस्त को किसी भी प्रकार के विवाद से दूर रहे। विद्यार्थियों के लिए इस पक्ष में अच्छे योग हैं। माता के स्वास्थ्य की ओर अधिक से अधिक ध्यान दें। किसी काम में रुकावट न हो, इसके लिए शिव जी का ध्यान करें।

सिंह

सिंह राशि के लोगों को अपने किसी नजदीकी से पीड़ा के योग हैं। आपको किसी प्रियजन के कष्ट में होने का समाचार मिल सकता है। 26 व 27 अगस्त को यात्रा करने का जोखिम न उठाएं। संतान की ओर से भी चिंता बनी रह सकती है। अपने पास बेल कीह जड़ लाल कपड़े में बांध कर रखें। इससे लाभ मिलेगा।

कन्या

इस राशि के जो लोग स्थान परिवर्तन करना चाहते हैं, उनके लिए यह समय ठीक चल रहा है। लेकिन पत्नी कष्ट का ध्यान रखने की आवश्यकता है। 28 अगस्त व 29 अगस्त में सम्मान का विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। किसी भी प्रकार का जोखिम उठाने की आवश्यकता नहीं है। गणेश जी का ध्यान करें और दूर्वा चढ़ाएं। साथ ही ओम गंगणपतये नमः मंत्र का जाप करें।

तुला

तुला राशि वाले लोगों का समय ठीक चल रहा है। आपके रुके हुए कार्यों को पूरा करने का समय है। आप अपने शत्रु को पराजित करने में सफल होंगे। आपको धन का लाभ मिलेगा। 30 व 31 अगस्त को अपना विशेेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। सफेद चंदन नाभि में चल के साथ लगाए, लाभ मिलेगा।

वृश्चिक

इस राशि के लोगों को अपने क्रोध पर नियंत्रण रखने की आवश्यकता है। क्रोध पर नियंत्रण रखें अन्यथा आपके आसपास के लोगों में आपके लिए वहम की स्थिति बन सकती है। पैरों में दर्द तथा माता को कष्ट मिल सकता है। 22 अगस्त के बाद आपके रुके हुए कार्याें को पूरा होने का समया है। हनुमान जी का ध्यान लाभकारी है एवं हनुमान चालीसा का पाठ करें।

धनु

धनु राशि वालों को 17 व 18 अगस्त को कार्यों में कमी देखने को मिलेगी। लेकिन 19 अगस्त से लगातार प्रतिष्ठा में व्रद्धि होगी। आगे के समय में किसी रुके हुए कार्य के पूरा होने का योग बन रहा है। इसे देखकर मन प्रसन्न होगा। संतान के दायित्व की पूर्ति होगी। पीला फूल पास रखने से लाभ मिलेगा।

मकर

इस राशि के लोगों को शासन सत्ता का लाभ मिलेगा। संतान के दायित्व की पूर्ति होगी। जीवन में सुख मिलेगा, लेकिन बाहर की यात्रा न करें। पत्नी के उदर में कष्ट का योग है तथा आपको किसी व्यक्ति का सानिध्य मिलेगा। पीपल के पेड़ के नीचे तेल का दीपक जलाएं एवं शनि चालीसा का पाठ करें।

कुंभ

इस राशि वाले लोगों के लिए इस पक्ष में अचानक यात्रा का योग बन रहा है। आपको संतान की तरफ से चिंता होगी। भाई को भी पीड़ा के योग हैं। आप जमीन से संबंधित कार्यों में सफल होंगे। किसी से धन के लेनदेन एवं बहुत अधिक विश्वास करना किसी के लिए लाभकारी नहीं है। अपने पास सफेद पुष्प रखें, लाभ मिलेगा।

मीन

आपका समय ठीक है, न्यसायालय से संबंधित कार्यों में सफलता मिलने के आसार हैं। आपका कोई रुका हुआ कार्य भी पूरा होगा। 245 अगस्त व 25 अगस्त का दिन अच्छा नहीं रहेगा, इस समय किसी अहम कार्य को न करें। अपने पास में हल्दी की गांठ को पीले कपड़े में बांध कर रखें और ओम नमोः भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप करें।

Related Articles

Back to top button
E-Paper