पर्यटन, पुलिसिंग और आपातकाल में हेलीकॉप्टर के उपयोग पर योगी सरकार कर रही विचार

गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव के समक्ष यूके डिफेन्स एवं सिक्योरिटी एक्सपोर्ट, ब्रिटिश हाई कमीशन और एयरबस हेलीकाप्टर के प्रतिनिधियों ने दिया प्रस्तुतीकरण

पुलिस द्वारा भीड़ नियंत्रण, खाद्य राहत कार्य, आपदा प्रबन्धन, मेडिकल इमरजेन्सी, नक्सल एरिया की निगरानी में भी हेलीकॉप्टर के प्रयोग के सम्बन्ध में भी मांगा गया प्रस्ताव
लखनऊ: प्रदेश सरकार विभिन्न क्षेत्रों में हेलीकॉप्टर के उपयोग पर विचार कर रही है। इस संबंध में यूके डिफेन्स एवं सिक्योरिटी एक्सपोर्ट, ब्रिटिश हाई कमीशन और एयरबस हेलीकाप्टर के प्रतिनिधियों ने गृह विभाग अपर मुख्य सचिव के समक्ष प्रस्तुतीकरण दिया। अपर मुख्य सचिव ने एयरबस के प्रतिनिधियों से पर्यटन, पुलिसिंग एवं ट्रामा में हेलीकॉप्टर के उपयोग के संबंध में प्रस्ताव मांगा। इसके साथ ही पुलिस द्वारा भीड़ नियंत्रण, खाद्य राहत कार्य, आपदा प्रबन्धन, मेडिकल इमरजेन्सी, नक्सल एरिया की निगरानी में भी हेलीकॉप्टर के प्रयोग के सम्बन्ध में भी प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

प्रदेश में आपातकालीन चिकित्सा सेवा, एडवांस एयरबोर्न सॉल्यूशंस, कानून प्रवर्तन और आपदा प्रबन्धन के लिए हेलीकॉप्टर के उपयोग के सम्बन्ध में यूके डिफेन्स एवं सिक्योरिटी एक्सपोर्ट, ब्रिटिश हाई कमीशन और एयरबस हेलीकाप्टर के प्रतिनिधियों ने हेलीकॉप्टर के उपयोगिता के सम्बन्ध में गृह विभाग अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी के समक्ष प्रस्तुतीकरण दिया गया।
एयरबस हेलीकाप्टर हेड ऑफ विजिनेस डेवलपमेण्ट आदित्य शर्मा ने राज्य में आपातकालीन चिकित्सा सेवा, एडवांस एयरबोर्न सॉल्यूशंस, कानून प्रवर्तन और आपदा प्रबन्धन के लिए हेलीकॉप्टर के उपयोग के सम्बन्ध में प्रस्तुतीकरण दिया। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में कानून प्रवर्तन, आपदा प्रबन्धन, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, मेडिकल सप्लाई, औद्योगिक विकास में हेलीकॉप्टर का उपयोग किया जा सकता है।

प्रस्तुतिकरण के दौरान बताया गया कि कुशल पुलिसिंग, नए एक्सप्रेस वे को कवर प्रदान करने और जरूरत के समय आपदा प्रबन्धन अधिकारियों की सहायता प्रदान करने के लिए बहु-भूमिका वाले हेलीकाप्टर के उपयोग पर विचार किया जा सकता है। उन्नत हेलीकॉप्टर संचालन से आर्थिक विकास, कौशल विकास और राजस्व सृजन में भी मदद मिलेगी। हेलीकॉप्टर की मदद से राज्य के दूर-दराज इलाके में मेडिकल सहायता पहुचाने एवं आपातकालीन दशा में मरीजों के ट्रामा सेन्टर/हॉस्पिटल पहुँचाने मे आसानी होगी।

आपदा प्रबन्धन एवं कानून व्यवस्था के दृष्टिगत हेलीकॉप्टर के उपयोग के संबंध में एयरबस के प्रतिनिधि ने बताया कि राज्य में बाढ़ के दौरान राहत एवं बचाव कार्य, पीडितों को खाद्य सामग्री एवं दवाइयों के वितरण, फायर फाइटिंग में हेलीकॉप्टर का उपयोग किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त मेलों/कांवड़ यात्रा के दौरान यातायात प्रबंधन में भी हेलीकॉप्टर का प्रयोग किया जा सकता है। हेलीकॉप्टर का प्रयोग पर्यटन एवं पॉयलट ट्रेनिंग में भी किया जा सकता है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper