पाक परिवार के 11 लोगों की संदिग्‍ध मौत, क्‍या दिया गया जहर से भरा इंजेक्‍शन?

जोधपुर। जिले के देचु पुलिस थाना क्षेत्र में लोड़ता गांव में पाक परिवार के 11 लोगों के संदिग्ध हालात मे अपने मकान में शव मिले। कीटनाशक सेवन की आशंका के साथ मौतों पर संदेह गहराया हुआ है। पुलिस को मौका स्थल पर चूहे मारने की दवाइयों के साथ ही कुछ इंजेक्शन मिले है। पूरे मकान को सील करने के साथ देर रात तक पुलिस ने शवों को एंबुलेंस के जरिए जोधपुर भेजा है। सोमवार को इनका मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मौतों का खुलासा हो पाएगा। परिवार के एकमात्र बचे सदस्य ने अपने कुछ रिश्तेदार परिवार जोकि मंडोर के आंगणवा में रहते है उनके खिलाफ आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित किए जाने का आरोप लगाते हुए देचू थाने में इसकी रिपोर्ट दी है।

परिवार के लोग खेतीबाड़ी करते थे। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचने के साथ एफएसएल टीम को भी बुलाया गया है। रात तक पुलिस मौके  का बारिकी से निरीक्षण करने में जुटी रही।

ग्रामीण पुलिस अधीक्षक राहुल बारहठ ने बताया कि आज सुबह सूचना मिली कि देचू के लोड़ता गांव में पाक विस्थापित के परिवारों के 11 लोगों के शव उनके  मकान मेंं पड़े है। इनमें परिवार का केवल एक सदस्य जीवित मिला है। मौत प्रथम दृष्टया संदिग्ध प्रतीत होने के साथ वहां पर दवाई की बू आ रही है। अंदेशा है किसी कीटनाशक से इनकी मौत हुई है। शवों को पोस्टमार्टम कार्रवाई के लिए देर रात जोधपुर में अस्पताल की मोर्चरी में भिजवाया गया है।

एसपी बारहठ ने बताया कि मौके पर एफएसएल टीम को बुलाया गया। साक्ष्य जुटाए गए है।परिवार के एकमात्र बचे सदस्य केवलराम पुत्र बुधाराम से भी पूछताछ की जा रही है।

इनकी हुई मौत:

एसपी ग्रामीण बारहठ ने बताया कि इन परिवारों में 40 साल की लक्ष्मी पुत्री बुधाराम, 75 साल का बुधाराम पुत्र पूनाराम, 70 साल की अंतरा देवी पत्नी बुधाराम, 35 साल का रवि पुत्र बुधाराम, 25 साल की प्रिया पुत्री बुधाराम, 11 साल का दयाल पुत्र के वल राम, 22 साल की सुमन पुत्री बुधाराम, 10 साल का दानिश पुत्र केवलराम, 5 साल की दीया पुत्री केवलराम, 12 साल के नैन पुत्र सुरजाराम, 10 साल का मुगदास पुत्र सुरजाराम की मौत हुई है। परिवार का केवलराम पुत्र बुधाराम जीवित मिला है।

गांव में करते है कृषि कार्य:

पुलिस अधीक्षक राहुल बारहठ के अनुसार परिवार के लोग गांव में ही कृषिकार्य करता था। मगर उनकी मौत किन परिस्थ्तिियों में हुई इसकी तफ्तीश गहनता से की जा रही है। पुलिस ने मौका स्थल का बारिकी से निरीक्षण किया। तब वहां पर चूहे मारने की दवाइयों के साथ ही कुछ इंजेक्शन मिले है। इनकी लेबोरेट्री जांच करवाई जा रही है।

राखी केवलराम की बहन आई थी:

एसपी ग्रामीण राहुल बारहठ ने बताया कि राखी पर केवलराम की एक बहन जो शादीसुदा है और राखी पर आई थी और रखाबंधन मनाकर चली गई। मगर उसे दो बच्चें यहीं पर थे।

केवलराम ने दी रिपोर्ट:

परिवार के एकमात्र बचे सदस्य केवलराम ने पुलिस को अपने कुछ रिश्तेदारों पर आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित किए जाने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दी है। जिसमें पारिवारिक विवाद की बात वह पुलिस को बता रहा है। जिन्होंने पहले भी परिवार के खात्मे की धमकी दी थी। इस परिवार की एक बड़ी पुत्री यानी केवलराम की बहन अविवाहित है जोकि नर्स है। वह भी चल बसी है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper