प्रियंका निकालेंगी यूपी में 12000 किमी की कांग्रेस प्रतिज्ञा यात्रा, हर शहर, कस्बे, बड़े गांवों से गुजरेगी यात्रा

विश्ववार्ता ब्यूरो

लखनऊ

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों को लेकर कांग्रेस ने अपने मिशन की शुरुआत कर दी है। मिशन यूपी की शुरुआत में  प्रियंका गांधी ने आने वाले दिनों में पूरे प्रदेश में 12000 किलोमीटर की दूरी नापने का फैसला करते हुए प्रतिज्ञा यात्रा निकालने का एलान किया है। अन्य दलों से कहीं पहले कांग्रेस ने अपने चार दर्जन के लगभग प्रत्याशियों को चुनाव लड़ने की हरी झंडी दिखा दी है।

प्रियंका गांधी गुरुवार देर शाम अपने चार दिनी दौरे पर उत्तर प्रदेश पहुंची हैं। आने वाले दिनों में प्रियंका का हर हफ्ते कम से कम तीन दिन यूपी रहने की योजना है। शुक्रवार सुबह से प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के दफ्तर में बैठकों की शुरुआत कर दी। सबसे पहले उन्होंने कांग्रेस सलाहकार समिति और रणनीति कमेटी के सदस्यों के साथ बैठक की। बैठक में पूरे उत्तर प्रदेश में यात्रा निकालने का फैसला लिया गया। इसे कांग्रेस प्रतिज्ञा यात्रा: हम वचन निभाएंगे का नाम देना तय किया गया है। बैठक में मौजूद एक अहम सदस्य के मुताबिक अक्टूबर से शुरु होने वाली कांग्रेस प्रतिज्ञा यात्रा प्रदेश भर में 12 हज़ार किलोमीटर चलेगी। इस दौरान बड़े गांवों और कस्बों से होकर यह यात्रा गुजरेगी। यात्रा के दौरान होने वाले कार्यक्रमों की रूपरेखा खुद प्रियंका गांधी तय कर रहीं हैं। शुक्रवार को उन्होंने यात्राओं के रूट और मुद्दों पर सलाहकार और रणनीति कमेटी के सदस्यों से सलाह ली है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की सलाहकार और रणनीति कमेटी के साथ बैठक में बैठक में आगामी चुनावी अभियानों और कार्यक्रमों पर भी मंथन किया गया है। तय किया गया है कि जल्दी ही कांग्रेस उत्तर प्रदेश में ज़ोनवार चुनावी अभियान और कार्यक्रमों की शुरूआत करेगी। कांग्रेस सलाहकार और रणनीति कमेटी के बैठक के बाद प्रदेश चुनाव कमेटी के साथ भी प्रियंका गांधी की बैठक होगी।

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों की तैयारियों में सबसे आगे निकलते हुए कांग्रेस ने अपने उम्मीदवारों की पहली सूची को अंतिम रुप दे दिया है। चार दर्जन से ज्यादा सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशियों के नामों को पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी ने हरी झंडी दिखा दी है। इन प्रत्याशियों को खुद प्रियंका गांधी ने बात कर अभी से तैयारियों में जुट जाने को कह दिया है। समाजवादी पार्टी के बाद अब कांग्रेस ने भी करीब करीब तय कर लिया है कि किसी बड़े दल से चुनावी तालमेल नहीं होगा। हां छोटे दलों के जरुर कांग्रेस ने बातचीत के रास्ते खुले रखे हैं।

चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों के लिए वार रुम बनाने और वहां केंद्रीय स्तर पर टीम भेज कर प्रबंधन देखने का फैसला भी किया गया है। प्रियंका गांधी ने जून के महीने में ही सभी जिला व शहर स्तर के पदाधिकारियों से जिताउ संभावित प्रत्याशियों की सूची मांगी थी।

प्रियंका गांधी के रहने के लिए राजधानी लखनऊ में हजरतगंज इलाके में कभी उनके परिवार की सदस्य शीला कौल का घर रहने के लिए पूरी तरह से तैयार कर दिया गया है। कौल हाउस के नाम से जाने जाने वाले इस घर की साज सज्जा पूरी हो गयी है। पिछली व इस बार की यात्रा में भी प्रियंका गांधी वहीं रुकी हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper