बिग बास्केट के जरिए सिडबी देगा ई-बाईक और ई-वैन के लिए कर्ज, शुरु किया डिजिटल प्रयास

लखनऊ, 13 अगस्त

कमजोरों, वंचितों और समाज के निचले तबके से आने वाले युवा उद्यमियों को आसानी से कर्ज उपलब्ध कराने के लिए संस्था भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) ने  डिजिटल प्रयास कार्यक्रम शुरु करते हुए आनलाइन रिटेल कंपनी बिग बास्केट के साथ भी करार किया है। डिजिटल प्रयास एक एप आधारित कार्यक्रम है जिसके जरिए एक ही दिन में कर्ज को मंजूरी दे दी जाती है।

शहरी क्षेत्र के युवाओं के लिए, सिडबी ने देश भर में मौजूदगी रखने वाली कंपनी बिग बास्केट के साथ करार किया है। देश भर में फैले बिग बास्केट के डिलिवरी करने वालों की मदद से सिडबी पर्यावरण के अनुकूल ई-बाइक और ई-वैन के लिए सस्ते ब्याज दर पर कर्ज देगा।

भारत सरकार के वित्तीय सेवाएं विभाग के सचिव देबाशीष पांडा, आईएएस, ने डिजिटल प्रयास कार्यक्रम और बिग बास्केट के साथ गठजोड़ की शुरुआत करते हुए समाज के निचले तबके की कर्ज की जरुरतों को पूरा करने के सिडबी के इस कदम की सराहना की। उन्होंने कहा कि सिडबी-बिगबास्केट की पहल से लोगों को अपने सूक्ष्म उद्यम शुरु करने के लिए कर्ज की सुविधा मिलेगी।

सिडबी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, श्री सिवसुब्रमणियन रमण ने कहा कि “ऐप के माध्यम से कर्ज के आवेदकों के लिए आसानी हो गयी है। बिग बास्केट के साथ साझीदारी से सिडबी आसानी से समाज के कमजोर वर्गों को अपना उद्यम शुरुने में मदद कर सकेगा और पर्यावरण के लिए अनुकूल ई वाहन की खरीद होगी।  बिगबास्केट के सीईओ श्री हरि मेनन ने कहा कि इस कदम से कंपनी के वितरण के कामों से जुड़ों लोगों की आजीविका पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा और सामाजिक उद्देश्यों की पूर्ति होगी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper