बैंक ऑफ़ बड़ौदा को इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के डिजिटल पेमेंट स्कोरकार्ड में शीर्ष स्थान

लखनऊ, 8 सितंबर

सर्वश्रेष्ठ प्रौद्योगिकी बैंक 2021 के तौर पर प्रतिष्ठित, बैंक ऑफ़ बड़ौदा को इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय  द्वारा फरवरी और मार्च 2021 के महीने के लिए जारी किए गए डिजिटल पेमेंट स्कोरकार्ड में पहला स्थान मिला है।  इस स्कोरकार्ड के तहत डिजिटल व्यवसाय के मामलों में विभिन्न मापदंडों पर सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, निजी बैंक, विदेशी बैंक, भुगतान बैंक व लघु वित्त बैंक की श्रेणी के 44 बैंकों की रैंकिंग निर्धारित की जाती है। मंत्रालय की यह विस्तृत रेटिंग विभिन्न कारकों पर आधारित थी, जिसमें बैंक ने सभी क्षेत्रों में औसत से अधिक अंक हासिल किए। इसके तहत जिन कारकों को शामिल किया गया उनमें डिजिटल भुगतान लेन-देन में असाधारण वृद्धि हासिल करना है जहां बैंक आफ बड़ौदा ने 137 करोड़ रुपये के डिजिटल लेनदेन के लक्ष्य का 129 फीसदी प्राप्त किया। ग्रामीण इलाकों में व्यापारियों को अपने साथ जोड़ने के लक्ष्य से 6 गुना अधिक की प्राप्ति हुयी है। पूर्वोत्‍तर राज्यों में व्यापारियों को अपने साथ जोड़ने के लक्ष्य का 124 फीसदी हासिल किया है। जो तादाद में 6900 रही है। बैंक के भुगतान में यूपीआई  की तकनीकी विफलता के औसत प्रतिशत में कमी दर्ज की गयी है। यह वित्त-वर्ष 2019-20 में 0.59 फीसदी से घटकर वित्त-वर्ष 2020-21 में 0.29 फीसदी हो गई। सभी बड़े बैंकों के बीच गिरावट का यह अनुपात दूसरा सबसे कम है।इसके अलावा, बैंक ने अन्य प्रमुख मानदंडों पर भी उच्चतम अंक प्राप्त किए, जिसके अंतर्गत प्रणाली में लचीलापन, शिकायतों का निवारण, डिजिटलीकरण सूचकांक, अवसंरचना का अंगीकरण और अनुपालन को शामिल किया गया था।

इस उपलब्धि पर प्रसन्नता जताते हुए कार्यकारी निदेशक अजय खुराना ने कहा कि डिजिटल पेमेंट स्कोरकार्ड में प्रथम स्थान डिजिटल जगत में उभरते हुए व्यापारिक प्रतिमानों के संदर्भ में बैंक ऑफ़ बड़ौदा के भविष्य के लिए तैयार रहने की पुष्टि करता है। महामारी के साल में यह अंक हासिल करना विशेष रूप से महत्वपूर्ण है, जहां पूरा देश बड़ी तेजी से डिजिटल साधनों को अपना रहा है, ताकि कोविड -19 के प्रसार की रोकथाम के लिए हर तरह के शारीरिक संपर्क को कम किया जा सके। मुख्य डिजिटल अधिकारी, अखिल हांडा ने कहा कि बैंक ग्राहकों की जरूरतों पर बेहद सक्रियतापूर्वक ध्यान दे रहा है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper