बैंक ऑफ बड़ौदा का शुद्ध लाभ चार गुना बढ़ा, एनपीए घटा

लखनऊ, 11 नवंबर

बैंक आफ बड़ौदा (बीओबी) ने सितंबर 2021 को समाप्त हुए छमाही में सितंबर 2020 को समाप्त छमाही की तुलना से चार गुना शुद्ध लाभ दर्ज किया है। बैंक की ओर से जारी किए गए वित्तीय नतीजों के मुताबिक साल-दर-साल आधार पर इस तिमाही का शुद्ध लाभ 24.39 फीसदी बढ़ा है जबकि सकल एनपीए घटकर 8.11 फीसदी रह गया है जो बीते साल इस अवधि में 9.14 फीसदी था।

वित्तीय परिणामों के मुताबिक साल-दर-साल आधार पर डॉमेस्टिक कासा 13.01 फीसदी और इसके अनुपात में 368 आधार अंकों का सुधार देखा गया है। साल-दर-साल आधार पर परिचालन लाभ  में 5.76 फीसदी की वृद्धि हुई।

बैंक का शुद्ध लाभ वित्त वर्ष 2021-22 की दूसरी तिमाही में बढ़कर 2088 करोड़ रुपए हो गया है यह वित्त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही में 1679 करोड़ रुपए थी। छमाही के आधार पर देखें तो इस वित्त वर्ष की पहली छमाही में शुद्ध लाभ बढ़कर 3296 करोड़ रुपये हो गया, जो बीते साल 814 करोड़ रुपये था। बैंक का ग्लोबल एडवांसेस साल-दर-साल आधार पर 2.10 फीसदी बढ़कर 734033 करोड़ रुपए हो गया। साल-दर-साल आधार पर वैश्विक जमाराशियां 0.54 फीसदी बढ़कर 959483 करोड़ रुपए हो गया जबकि घरेलू जमा सितंबर 2021 में 3.43 फीसदी बढ़कर 864603 करोड़ रुपए हो गया। बीओबी के कृषि ऋण पोर्टफोलियो में साल-दर-साल आधार पर 7.39 फीसदी की वृद्धि हुई है। जमा की लागत सितंबर 2021 में घटकर 3.52 फीसदी हो गई, जबकि सितंबर 2020 में यह 3.99 फीसदी  थी। बैंक की पूंजी पर्याप्तता (सीएआरआर) सितंबर 2020 की 13.26 फीसदी से बढ़कर सितंबर 2021 में 15.55 फीसदी हो गई।

Related Articles

Back to top button
E-Paper