यूनियन बैंक को चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 1085 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ, 49 फीसदी की वृद्धि




लखनऊ, फरवरी 7, 2022,  सार्वजनिक क्षेत्र के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने 31 दिसंबर 2021 को समाप्त चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में शानदार वित्तीय परिणाम दिए हैं। इस अवधि में उसका शुद्ध लाभ सालाना आधार पर 49 फीसदी बढ़कर 1085 करोड़ रुपये हो गया। बैंक को पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 727 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था।
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने सोमवार को चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के वित्तीय परिणामों का एलान किया है। बैंक के मुताबिक रिटेल, कृषि व एमएसएमई क्षेत्र को दिया जाने वाले ऋण में सालाना आधार पर 9.17 फीसदी वृद्धि हुयी है। बैंक ने वर्ष दर वर्ष आधार पर रिटेल में 9.78 फीसदी, कृषि में 11.08 फीसदी व एमएसएमई अग्रिमों में 6.38 फीसदी की बढ़त दर्ज की है। परिसंपत्ति की गुणवत्ता के मामले में बैंक का सकल एनपीए चालू वित्त वर्ष की दिसंबर तिमाही के अंत में सकल अग्रिमों के मुकाबले 11.62 फीसदी था, जबकि यह आंकड़ा दिसंबर 2020 के अंत में 13.49 फीसदी था।
चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में सालाना आधार पर यूनियन बैंक का शुद्ध एनपीए 3.27 फीसदी से बढ़कर 4.09 फीसदी हो गया है। बैंक का परिचालन लाभ बीते साल इसी अवधि के 5265 करोड़ रुपये से घटकर 5098 करोड़ रुपये हो गया है। निदेशक मंडल की ओर से मंजूर किए गए वित्तीय परिणामों के मुताबिक यूनियन बैंक की शुद्ध ब्याज सालाना आधार पर 8.88 फीसदी बढ़ी है इसी आधार पर कासा जमाराशियों में 11.06 फीसदी का इजाफा हुआ है। बैंक के पास अब जमाराशियों का आधार 937455 करोड़ रुपये का हो गया है। यूनियन बैंक के अग्रिम में तिमाही आधार पर 5.51 फीसदी व सालाना आधार पर 2.69 फीसदी की बढ़त दर्ज की गयी है। जमाराशियों के मामले में तिमाही आधार पर 2.56 फीसदी तो सालाना आधार पर 6.24 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गयी है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper