यूनियन बैंक को वित्तीय वर्ष 2020-21 में 2906 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ

लखनऊ, 7 जून, सार्वजनिक क्षेत्र के यूनियन बैंक आफ इंडिया ने वित्ताय वर्ष 2021 में 2906 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ अर्जित किया है। बीते साल बैंक को 6613 करोड़ रुपये की शुद्ध हानि हुयी थी।

सोमवार को यूनियन बैंक के वित्तीय परिणामों का एलान करते हुए प्रबंध निदेशक (एमडी) एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) राजकिरन राय जी ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020 की चौथी तिमाही के मुकाबले 2021 में इसी अवधि में परिचालन लाभ में 40.38 फीसदी की बढ़त दर्ज की गयी है। जबकि सालाना लिहाज से इसमें 6.54 फीसदी का सुधार हुआ है।

उन्होंने बताया कि 2021 के दौरान बैंक के शुद्ध ब्याज आय में 4.37 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गयी है। इसी तरह बैंक के कासा जमाराशि में साल दर साल 13.15 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुयी है। वित्तीय वर्ष 2021 की चौथी तिमाही के अंत तक कुल जमाराशि आधार 923805 करोड़ रुपये रहा। बैंक ने रिटेल में 10.49 फीसदी, कृषि में 11.89 फीसदी और छोटे व मझोले उद्योगों को दिए जाने वाले अग्रिमों में 3.24 फीसदी की बढ़त दर्ज की है। औसत अग्रिमों में बैंक ने साल दर साल 3.11 फीसदी की वृद्धि दर्ज की है।

यूनियन बैंक प्रबंध निदेशक ने बताया कि विलय के बाद बैंक ने पूर्व के आंध्र बैंक और कारपोरेशन बैंक की सभी शाखाओं का सीबीएस सिस्टम में एकीकरण रिकार्ड समय में पूरा किया है। उन्होंने बताया कि वित्तीय समावेशन की विभिन्न योजनाओं में यूनियन बैंक ने बढ़-चढ़ कर प्रदर्शन किया है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत इसने इस साल 31 मार्च को समाप्त तिमाही में 3.71 लाख ने नामांकन किए हैं। जबकि प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत 6.69 लाख नामांकन किए हैं। अटल पेंशन योजना के तहत बैंक ने 31 मार्च 2021 को समाप्त तिमाही में 0.59 लाख नए नामांकन किए हैं।

यूनियन बैंक एमडी के मुताबिक कोविड-19 से निपटने में भी बैंक ने अपनी भूमिका निभाई है। इस दौरान कोविड इमरजेंसी लाइन आफ क्रेडिट (सीईएलसी) के तहत 113880 कर्ज के आवेदनों को मंजूर करते हुए 3652 करोड़ रुपये की राशि को मंजूरी दी है। इसी तरह यूनियन कोविड-19 व्यक्तिगत ऋण योजना (यूसीपीएलएस) के तहत 80536 आवेदनों को मंजूर करते हुए 1973 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की है। यूनियन स्वंय सहायता समूह कोविड सुविधा ऋण (यूएससीएसएल) योजना के तहत  130180 आवेदनों को मंजूर करते हुए 696 करोड़ रुपये स्वीकृत किए हैं। यूनियन बैंक की इस समय देश भर में 9312 शाखाएं कार्यरत हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper