यूपी के हर जिले में प्रत्‍येक सप्‍ताह आयोजित होगा रोजगार मेला

योगी सरकार ने हर हाथ को काम देने का लिया संकल्प

विभाग की ओर से 31 मई तक 20,204 बेरोजगारों को दिया जाएगा रोजगार

उत्तर प्रदेश के सभी 18 मंडल मुख्यालयों पर हर माह लगेगा रोजगार मेला

लखनऊ, 24 मई।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को पूरा करने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने हर हाथ को काम देने का संकल्प लिया है। सेवायोजन विभाग की ओर से उत्तर प्रदेश के 18 मंडल मुख्यालयों पर प्रति माह एक बड़े रोजगार मेले को आयोजित किया जाएगा। इसके साथ ही विभाग की ओर से यूपी के हर जिले में प्रत्‍येक सप्‍ताह रोजगार मेला आयोजित होगा। योगी सरकार की इस मुहिम से रोजगार मेले में सभी रोजगार-स्वरोजगार सृजन करने वाले विभागों के भाग लेने से एक ही स्थल पर बेरोजगार युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार के अधिक अवसर मिल सकेंगे। औद्योगिक क्षेत्र की विशिष्टता के आधार पर इस आयोजन के लिए नोएडा और गाजियाबाद को अलग से चुना गया है।

      यूपी में एक अप्रैल से 23 मई तक 197 लघु एवं वृहद रोजगार मेले में 13,811 बेरोजगारों को रोजगार दिया गया। विभाग की ओर से 31 मई तक 20,204 बेरोजगारों को रोजगार दिए जाने का लक्ष्‍य निर्धारित किया गया है। प्रदेश में 265 कंपनियां प्रतिभाग कर रही हैं। इस वृहद रोजगार मेले का आयोजन लखनऊ, आजमगढ़, अलीगढ़, सहारनपुर, अयोध्‍या, बस्‍ती, गाजियाबाद, झांसी, बांदा, आगरा, वाराणसी, प्रयागराज और गौतमबुद्धनगर में किया जा रहा है। ये रोजगार मेले 24 मई से 30 मई तक आयोजित किए जाएंगे। इस मेले में सभी रोजगार सृजन करने वाले विभागों के भाग लेने से एक ही स्थल पर बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अधिक अवसर मिल सकेंगे।   

रोजगार हेल्प डेस्क से मिल रही मदद

प्रत्‍येक कार्यालय में एक रोजगार हेल्प डेस्क बनाकर संबंधित विभाग द्वारा रोजगार, स्वरोजगार, कौशल प्रशिक्षण व अप्रेंटिस के माध्यम से इससे जुड़े कार्यक्रमों का विवरण उपलब्ध कराया जा रहा। प्रशासनिक विभागों के तहत सभी निदेशालय/निगम/बोर्ड/आयोग इत्यादि से संबंधित विभाग के लिए एक नोडल अधिकारी नामित किए गए हैं। जिनके माध्यम से सेवायोजन पोर्टल पर उपलब्ध प्रारूपों पर अपनी सूचना उपलब्ध करायी जा रही है। सरकारी विभागों और उनसे अधीनस्थ संस्थाओं में मैनपावर लगाने के लिए सेवायोजन विभाग द्वारा संचालित सेवायोजन पोर्टल sewayojan.up.nic.in की मदद ली जा रही है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper