लखनऊ में थम नहीं रहा कोरोना का कहर, सिर्फ केजीएमयू से आए इतने नए मामले

लखनऊ। प्रदेश में कोरोना के तेजी से प्रसार का सिलसिला जारी है। अब औसतन लगभग दो हजार नए मामले प्रतिदिन सामने आ रहे हैं। प्रदेश की विभिन्न प्रयोगशालाओं में बुधवार को भी कई लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है।

राजधानी की किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में मंगलवार को जांच किये गए 4,173 नमूनों में 242 की रिपोर्ट बुधवार को पॉजिटिव आई। इनमें लखनऊ के 97, हरदोई के 41, शाजहांपुर के 29, बाराबंकी व मुरादाबाद के 25-25, कन्नौज के 17,  बहराइच के 03, सुलतानपुर के 02, तथा प्रतापबढ़, सीतापुर और पीलीभीत का 01-01 रोगी शामिल है।

इसके साथ ही कई अन्य प्रयोगशालाओं की रिपोर्ट में भी कोरोना के नए मामलों की पुष्टि हुई है। संतकबीर नगर में बुधवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) बघौली में तैनात 38 वर्षीय कुष्ठ रोग सहायक व उनके पिता समेत 10 लोग जांच में कोरोना पॉजिटिव निकले हैं। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. मोहन झा के मुताबिक इन सभी पाॅजिटिव मरीजों को उपचार के लिए सेंट थामस इंटर कालेज-खलीलाबाद के कोरोना एल-1 वार्ड में भर्ती किया जा रहा है। वहीं बस्ती के कैली हास्पिटल से चार तथा इस जनपद के सेंट थामस इंटर कालेज-खलीलाबाद के कोरोना वार्ड से 16 मिलाकर कुल 20 पॉजिटिव मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंचे। जनपद में अब तक आठ लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।

वाराणसी में बुधवार सुबह तक कोरोना के 51 मरीज मिले हैं। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. वीबी सिंह ने बताया कि बीएचयू से मिली 353 रिपोर्ट में 51 नए मरीजों में पुष्टि हुई है। इस तरह कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 1530 हो गई है, जिसमें 625 डिस्चार्ज, 36 की मौत के बाद 869 एक्टिव मरीज हैं।

जौनपुर जनपद में बुधवार की सुबह 111 सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें मड़ियाहूं थाने के आठ और केराकत कोतवाली के इंस्पेक्टर समेत दो पुलिसकर्मी पॉजिटिव मिले हैं। खेतासराय थाने में भी तीन नए पुलिसकर्मियों में कोरोना की पुष्टि हुई है। बताया जा रहा है कि नए मरीजों में 23 सिर्फ एक महिला के सम्पर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। इनके अलावा सात मुंगराबादशाहपुर नगर, एक नदारबंपुर गांव, दस धर्मापुर ब्लॉक, पांच डोभी ब्लॉक के हैं। इनके अलावा रतौली मोकलपुर गांव के तीन, टीबी अस्पताल, लाइन बाजार के भी एक-एक मरीज शामिल हैं। जिले में अब पॉजिटिव केस की कुल संख्या 1116 हो गई है। इनमें 16 मरीजों की मौत हुई है।

महराजगंज जनपद में बुधवार को तीन कोराना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनके साथ ही जनपद में कुल संक्रमितों की संख्या 388 हो गई है। वर्तमान में सक्रिय मामलों की संख्या 132 है। वहीं 250 लोग इलाज के बाद ठीक होकर घर जा चुके हैं।

जिलाधिकारी डॉ. उज्ज्वल कुमार ने बताया कि संक्रमित मिले लोग सदर, पंतनगर व जायसवालनगर के निवासी हैं। सभी संक्रमितों को इलाज के लिए कोविड केयर हॉस्पिटल पुरैना भेजा गया है।

इस बीच राज्य में संक्रमण के मामलों का ग्राफ तेजी से बढ़ते देख मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को वरिष्ठ अफसरों के साथ बैठक में कहा कि नवजात शिशु से लेकर वृद्धजन का सफल इलाज किया गया है। सफलतापूर्वक उपचारित किए गए ऐसे रोगियों की केस हिस्ट्री का अध्ययन करते हुए यह देखा जाना चाहिए कि इनका सफल उपचार किस प्रकार और किन स्थितियों में हुआ।

इस सम्बन्ध में उच्च स्तरीय चिकित्सा अनुसंधान संस्थानों के विशेषज्ञों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा संवाद बनाकर उन्हें भी इन अध्ययनों से अवगत कराना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 एक नई बीमारी है, जिसकी कोई कारगर दवा अथवा टीका अभी तक नहीं आया है। इसके दृष्टिगत इस प्रकार के अध्ययन कोविड-19 के रोगियों की रिकवरी दर को बढ़ाने में काफी उपयोगी सिद्ध हो सकते हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper