कानपुर प्राणी उद्यान में 10 पक्षियों की अचानक हो गई मौत, बर्ड फ्लू की आशंका

कानपुर। उत्तर प्रदेश में बर्ड फ्लू के खतरे को लेकर जारी अलर्ट के बीच कानपुर प्राणी उद्यान में 10 पक्षियों की अचानक हुई मौत से हड़कम्प मच गया है। पक्षियों के बर्ड फ्लू से मौत होने की आशंका जताई जा रही है। इस खतरे को देखते हुए पक्षियों (जंगली मुर्गियों) के बाड़े को बंद कर दिया गया है और दवाईयों को छिड़काव कराते हुए सीसीटीवी से निगरानी शुरु कर दी गई है।

कानपुर प्राणी उद्यान

बर्ड फ्लू के खतरे के बीच कानपुर प्राणी उद्यान में 24 घंटे के अंदर 10 जंगली मुर्गियों की अचानक मौत हो गई। पक्षियों की मौत को बर्ड फ्लू से जोड़कर देखा जा रहा था और चिड़ियाघर में 10 पक्षियों की मौत से हड़कम्प मच गया। आनन-फानन में जू प्रशासन ने जंगली मुर्गियों के बाड़े के साथ अन्य दुर्लभ व विदेशी पक्षियों के बाड़ों में ताला लगा दिया है। प्रबंधन द्वारा इन सभी बाड़ों में दवाई का छिड़काव कराते हुए पक्षियों की निगरानी बढ़ा दी है।

आयकर विभाग में इन पदों पर निकली बंपर भर्तियां, यहां जाकर अभी करें आवेदन

कानपुर प्राणी उद्यान के निदेशक सुनील चौधरी ने पक्षियों की मौत के मामले में बताया कि फिलहाल खतरे की बात नहीं है, लेकिन हम लोग अलर्ट हैं। बाड़ों में दवाइयां छिड़की जा रही हैं, वहीं सीसीटीवी से भी मॉनिटरिंग की जा रही है। मृत पक्षियों के स्वैब सैंपल लेकर जांच के लिए भोपाल लैब भेजी गयी है, जिसकी रिपोर्ट आने के बाद ही पक्षियों की मौत का कारण स्पष्ट की जा सकेगी।

बुन्देलखंड को सीएम योगी ने दी बड़ी सौगात, अधूरी पड़ी परियोजनाओं के लिये दी मंजूरी

निराश हुए दर्शक

प्राणी उद्यान में अचानक पक्षियों की मौत के बाद सभी पक्षी बाड़ों को बंद कर दिया गया है। साथ ही पक्षी बाड़ों के पास जाने के लिए भी मनाही है। ऐसे में चिड़ियाघर आने वाले दर्शक दुर्लभ व विदेशी पक्षियों को देखने से वंचित हो रहे हैं। पक्षियों को न देख पाने के चलते गुरुवार को चिड़ियाघर पहुंचे दर्शकों को निराशा हाथ लगी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper