असम में सौ करोड़ का भूमि घोटाला, मुख्यमंत्री हों बर्खास्त : कांग्रेस

नयी दिल्ली. कांग्रेस ने असम के मुख्यमंत्री हेमंत विश्वा सरमा के परिवार पर सौ करोड़ रुपए से ज्यादा के भूमि घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाते हुए मामले की उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश की निगरानी में जांच करने और  मुख्यमंत्री को तत्काल बर्खास्त करने कि मांग की है।

 कांग्रेस के असम के प्रभारी महासचिव जितेंद्र सिंह, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रिपुन बोरा, लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता गौरव गोगोई, प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अब्दुल खालिक तथा कांग्रेस प्रवक्ता गौरव बल्लव ने रविवार को यहां पार्टी मुख्यालय में विशेष संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि हाल में हुए खुलासे के अनुसार मुख्यमंत्री की पत्नी तथा परिवार के अन्य लोगों ने गरीबों के लिए आवंटित भूमि का अधिग्रहण किया है और करीब 100 करोड़ रुपए से ज्यादा की संपत्ति को विकसित कर इस पर कब्जा कर लिया है। उन्होंने कहा कि जो जमीन गरीबों को दी जानी थी मुख्यमंत्री के परिवार ने उस जमीन पर कब्जा कर गरीबों के हक को मार दिया है।

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि यह अत्यंत गंभीर मामला है। इसमें मुख्यमंत्री के परिवार के लोगों ने पद का दुरुपयोग कर गरीबों के हक़ को छीना है। इस मामले की उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश की देखरेख में जांच हो और मुख्यमंत्री को तत्काल बर्खास्त किया जाना चाहिए।

 उन्होंने कहा कि सरमा जब प्रदेश में मंत्री थे तब ही उन्होंने इस जमीन की एक हिस्से को अपने परिवार की कंपनी के नाम करवा दिया था और अब पूरी जमीन को कब्जा कर गरीबों के लिए दी गई भूमि को विकसित कर दिया है। इस जमीन की कीमत एक अरब से ज्यादा आंकी जा रही है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper