यूपी में 10वीं बोर्ड परीक्षा रद्द, डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा ने जारी किए निर्देश

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने साल 2021 के लिए 10वीं कक्षा के लिए बोर्ड परीक्षा को रद्द करने का फैसला किया है। यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा के लिए लगभग 29 लाख छात्र रजिस्ट र्ड हैं, लेकिन अब इन्हें 9वीं की फाइनल परीक्षा के अंकों के आधार पर प्रमोट कर दिया जाएगा। कोरोना महामारी को देखते हुए बोर्ड परीक्षा को रद्द करने की मांग काफी लंबे समय से हो रही थी। इसी को ध्यान में रखकर सरकार ने यह फैसला किया है। इसकी जानकारी डिप्टी उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने दी। उन्होंने कहा कि यह यूपी के 56 लाख छात्रों के हित में लिया गया फैसला है जो काफी महत्वपूर्ण है।

उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने बताया कि परिस्थितियां अनुकूल होने पर 12वीं की बोर्ड परीक्षा को जुलाई के दूसरे सप्ताह में कराने की योजना है। हालांकि, इसके लिए परीक्षा का समय बदला जाएगा। उन्होंने बताया कि 12वीं की बोर्ड परीक्षा की अवधि महज डेढ़ घंटा होगी और इसमें छात्रों को सिर्फ सवालों के उत्तर देने होंगे।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कोरोना संक्रमण फैलने के जोखिम को देखते हुए यूपी बोर्ड के समस्त स्कूलों में कक्षा 6, 7, 8, 9 और 11 के छात्रों को भी प्रोन्नत करने का निर्णय लिया है। यह जानकारी भी उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने दी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper