Bahraich News In One Click : एक क्लिक में पढ़ें बहराइच जिले की हर बड़ी खबर

Bahraich News

किसान पीजी कॉलेज में घुसकर युवक पर जानलेवा हमला

बहराइच। शैक्षिक गतिविधियों के लिए चर्चित किसान पीजी कॉलेज गुरुवार को दोपहर हिंसक गतिविधियों की चपेट में आ गया। आधा दर्जन से अधिक हथियारबंद लोगों ने एक युवक को जान से मारने के लिए दौड़ाया। जान बचाने के लिए युवक कॉलेज के कार्यालय में घुस गया। हमलावरों ने कार्यालय में घुसकर युवक पर जानलेवा हमला किया। हमले में युवक का सिर फट गया और खून की धारा फूट पड़ी। बचाव में आए कालेज स्टाफ के लोगों को भी हमलावरों का शिकार होना पड़ा। इस प्रयास में आधा दर्जन केडीसी कर्मी भी घायल हुए।

विद्यालय प्रशासन ने सहायता के लिए पुलिस को बुलाया मौके पर पहुंची पुलिस ने हमलावरों का पक्ष लिया और केडीसी कर्मियों पर ही भडक उठे। प्रतिवाद करने पर पुलिस कर्मियों का रुख नरम हुआ और आरोपियों को हिरासत में लेकर कार्यवाही का आश्वासन दिया गया है। कॉलेज के चीफ प्रॉक्टर किशुन बीर ने बताया कि गुरुवार को दोपहर जब कॉलेज के प्रशासनिक भवन में सभी कर्मी अपने अपने काम में व्यस्त थे। तभी राजा शुक्ला नाम का एक युवक बदहवास भागता हुआ कार्यालय के अंदर घुस गया।

इसके पहले कि कॉलेज स्टाफ के लोग कुछ समझ पाते उसके पीछे हथियारबंद आधा दर्जन युवक भी पहुंच गए। युवकों ने राजा शुक्ला के सिर और शरीर के विभिन्न भागों पर लोहे की रॉड, हाकी, जंजीर तथा लाठियों से हमला बोल दिया। युवक को पिटता देख कॉलेज के कर्मचारियों ने हमलावरों से कारण जानना चाहा तो उन्होंने कॉलेज स्टाफ पर भी लोहे की रॉड चला दी। कॉलेज स्टाफ की संख्या ज्यादा होने के कारण हमलावरों के पैर उखड़ गए और वह भागने लगे।

इसी बीच किसी ने पुलिस को फोन किया मौके पर पहुंचे टिकोनी बाग प्रभारी ने कॉलेज स्टाफ को ही इस अराजकता का जिम्मेदार ठहराना शुरू कर दिया। इस पर एबीवीपी के प्रदेश उपाध्यक्ष पंकज सिंह ने कड़ा प्रतिवाद किया और पुलिस विभाग के उच्च अधिकारियों से शिकायत करने की बात कही। जिसके चैकी प्रभारी नरम पड़े और उन्होंने पकड़े गए हमलावरों को हिरासत में लेकर उनके हथियारों को कब्जे में ले लिया। कालेज की ओर से तहरीर दी गई है पुलिस मामले की छानबीन कर रही है सभी हमलावर पुलिस की हिरासत में हैं।

आयोग की सदस्य ने महिला महाविद्यालय में की जनसुनवाई

बहराइच । उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग के निर्देशानुसार ‘‘मिशन शक्ति’’ अभियान के अन्तर्गत जनपद में आयोजित 02 दिवसीय महिला जनसुनवाई एवं जागरूकता चैपाल के दूसरे दिन तहसील सदर बहराइच अन्तर्गत महिला महाविद्यालय में उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की मा. सदस्य श्रीमती मनोरमा शुक्ला की अध्यक्षता में महिला जनसुनवाई एवं महिला जागरूकता चैपाल कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।

महिला जनसुनवाई के दौरान 10 महिलाओं की समस्याओं की सुनवाई करते हुए सदस्य शुक्ला ने सम्बन्धित अधिकारियों को त्वरित निस्तारण के निर्देश दिये। इस अवसर पर पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर टी.एन. दुबे, महिला थाना अध्यक्ष मंजू पाण्डेय, नायब तहसीलदार कैसरगंज अल्पिता वर्मा, जिला प्रोबेशन अधिकारी विनय कुमार सिंह, समाज कल्याण व दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग, महिला शक्ति केन्द्र, बाल संरक्षण इकाई, वन स्टाप सेन्टर, राजस्व सहित अन्य विभागों के अधिकारी व कर्मचारी तथा स्वयंसेवी संस्था के लोग मौजूद रहे।

जनसुनवाई कार्यक्रम के उपरान्त मा. सदस्य श्रीमती शुक्ला ने जिला महिला चिकित्सालय एवं राजकीय बालिका इण्टर कालेज बहराइच में महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित वन सटाप सेन्टर का निरीक्षण कर विभिन्न व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की तथा सम्बन्धित को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

विभागीय मंत्री की सिफारिश के बावजूद आवास के लिए 2 साल से भटक रहा कमलेश

नानपारा, बहराइच। योगीराज में लालफीताशाही का एक नमूना बहराइच में उस समय सामने आया जब मंत्री का आदेश होने के 2 साल बीत जाने के बावजूद भी एक ग्रामीण को आवास योजना का लाभ नहीं मिल पाया है। इन 2 सालों में पीड़ित अफसरों के चैखट की खाक छानकर थक गया और ग्राम पंचायत का कार्यकाल पूरा होने के बाद भी आवास न मिलने से उसकी उम्मीद टूट गई।

करीब 2 साल पहले ग्राम विकास मंत्री से प्रधान मंत्री आवास की स्वीकृति पाकर विकास खण्ड बलहा के ग्राम मेहरबान नगर निवासी कमलेश कुमार पुत्र छोटेलाल का परिवार खुशी से झूम उठा था। कमलेश के परिजनो को उम्मीद बंध गयी थी कि अब फूस व छप्पर से छुटकारा मिल जायेगा। मगर उसे क्या मालूम था कि अब इसके लिए लम्बे समय तक दफ्तरों  के चैखट की खाक छाननी पड़ेगी। लगभग दो साल पूरा होने को है। मगर उसके हाथ मात्र प्रमाण पत्र के अतिरिक्त कुछ नही लगा। अब उसे सिर्फ आश्वासन दे दिया जाता है कि कार्यवाही चल रही है। अब तो ग्राम प्रधान का कार्यकाल भी पूरा हो गया। ग्राम पंचायतों का नया गठन होगा। धीरे-धीरे कमलेश के परिवार की अब प्रधानमंत्री आवास मिलने की आशा टूटती जा रही है फिर भी कमलेश उच्चाधिकारियों के चैखट की खाक छान रहा है।

मेहरबान नगर निवासी कमलेश कुमार पुत्र छोटेलाल ने बताया कि जुलाई 2019 को प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत ग्राम विकास मंत्री उत्तर प्रदेश डा महेन्द्र सिंह से स्वीकृति पत्र प्राप्त हुआ था। कुछ दिन इंतजार करने के बाद ग्राम प्रधान पंचायत सचिव और खण्ड विकास अधिकारी बलहा से सम्पर्क  करने लगा। इस प्रकार जब एक वर्ष से अधिक हो गया तब उसे मुख्य विकास अधिकारी को स्वीकृति के अनुसार प्रधानमन्त्री आवास के लिए मोहर लगाई जिलाधिकारी के दरवाजे के चक्कर लगाने के बाद तमाम उच्चाधिकारियों को फरियाद भेजी मगर आज तक कमलेश के हाथ खाली है। खंड विकास अधिकारी बलहा रंजन लाल का कहना है जांच कराई जा रही है।

जिलाधिकारी ने किया उपकेंद्र खुटेहना का औचक निरीक्षण

पयागपुर, बहराइच। उपकेंद्र स्तर पर प्रदान की जा रही मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य के संचालित स्वास्थ्य सुविधाओं का औचक निरीक्षण बुधवार को सायं जिलाधिकारी बहराइच शम्भू कुमार द्वारा किया गया। उनके साथ आईएएस सूरज पटेल व सौरभ गंगवार आईएएस ने संयुक्त रुप से किया। अधिकारियो ने उपकेंद्र की मूलभूत सुविधाओं व प्रदान की जा रही स्वास्थ्य सुविधाओं के प्रति सन्तोष व्यक्त किया।

संस्थागत प्रसव की जानकारी ज्ञात करने पर एएनएम कुसुमावती ने बताया कि वर्तमान समय मे अबतक 70 व अप्रैल से अब तक कुल 806 संस्थागत प्रसव उपकेंद्र पर आयोजित हो चुके है। उपकेंद्र परिसर में स्थापित आरोग्य केंद्र पर प्रदान की जा रही सुविधाओं की जानकारी सीएचओ आशीष राय से प्राप्त की। उन्होंने स्वास्थ्य कर्मियों को निर्देशित किया की परिसर में स्वच्छता के साथ लाभार्थियों को प्रदान की जाने वाली सेवाओ में कोई कोताही न बरती जाए। जिसका निरीक्षण समय समय पर अधीक्षक डॉ मृत्युंजय पाठक करेंगे। परिसर में पाथ वे व आंगनबाड़ी केंद्र व हर्बल वाटिका की स्थापना के निर्देश खण्ड विकास अधिकारी पयागपुर श्री मती श्वेता मिश्रा को प्रदान किया। तहसीलदार पयागपुर को निर्देशित किया न्यायालय के सम्बंधित मुकदमे में त्वरित कार्रवाई करे। वही उपजिलाधिकारी पयागपुर केपी भारती को परिसर में स्थापित अवैध कब्जे को हटवाने व कराये जा रहे निर्माण कार्यो की साप्ताहिक समीक्षा अपने स्तर से करते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। इस दौरान एसआई अरुण कुमार, बीपीएम अनुपम शुक्ल, महेश मिश्रा, नवल किशोर गुप्ता, सूर्यकांत गौड़, रोहित शुक्ल, कमलेश यादव सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

बच्चों एवं अध्यापकों को किया गया चाइल्डलाइन के प्रति जागरूक

जरवलरोड, बहराइच। विकासखंड जरवल के ग्राम सभा रुदायन में प्राथमिक विद्यालय एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय में सब सेंटर चाइल्डलाइन के तत्वाधान में खुली बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें चाइल्डलाइन के कार्यकर्ताओं द्वारा छात्रों एवं अध्यापकों तथा रसोइयों को चाइल्ड लाइन की गतिविधियों के बारे में अवगत कराया गया। वही चाइल्डलाइन के कार्यकर्ता संजय कुमार सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि बच्चों से संबंधित होने वाले दुर्व्यवहार और बाल श्रम, बाल विवाह, बाल व्यापार को रोकने तथा नहीं पढ़ने वाले ग्रामीण बच्चों को विद्यालय से जोड़ने का काम उनकी संस्था कर रही है।

संस्था चाइल्डलाइन हर पहलुओं पर काम कर रही है। वहीं पर चाइल्डलाइन के दूसरे कार्यकर्ता विनोद कुमार सिंह ने विभिन्न हेल्पलाइन नंबर 1090 वूमेन पावर लाइन 181 महिला हेल्पलाइन 112 आपातकालीन हेल्पलाइन 1098 चाइल्ड लाइन हेल्पलाइन 102, 108 स्वास्थ्य एवं एंबुलेंस सेवा 1076 मुख्यमंत्री हेल्पलाइन सेवा की विस्तार पूर्वक जानकारी दी। संस्ािा के लोगों ने कहा कि सभी इस बात की जानकारी अपने परिजनों और पडोसियों से साझा करें। जिससे कि जरुरत पडने पर लोग अपनी मदद हासिल कर सकें और दूसरों की भी सहायता कर सकें। इस अवसर पर रणवीर सिंह विद्यालय के प्रधानाचार्य धर्मेंद्र तिवारी सहित सभी अध्यापक बच्चे एवं रसोईया उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper