आज का इतिहास : 6 मार्च को ही मशहूर फुटबॉल क्लब स्पेन के ‘मैड्रिड क्लब’ की हुई थी स्थापना

आज का इतिहास

आज का इतिहास अपने में कई महत्वपूर्ण किस्से और घटनाएं समेटे है, हर दिन कुछ खास हुआ है। देश – दुनिया के इसी रोचक इतिहास को एक सिस्टमैटिक माध्यम से हम आपके सामने लाए हैं। डेली हिस्ट्री अपडेट के इस कड़ी में आज आपको हम 6 मार्च से जुड़े देश – दुनिया में घटे महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में जानकारी देंगें। किन खास लोगों ने आज जन्म लिया और कौन से लोग आज हमें छोड़कर चले गए। तो आइये आपको लेकर चलते हैं इतिहास के इस रोचक सफर पर।

6 मार्च की महत्वपूर्ण घटनाएं |  आज का इतिहास

1775 रघुनाथ राव ने पहले एंग्लो-मराठा युद्ध को समाप्त करने को लेकर अंग्रेजों के साथ सूरत की संधि पर हस्ताक्षर किये।

1886 नर्सों की पहली पत्रिका नाइटिन्गेल प्रकाशित हुई।

1902 मशहूर फुटबॉल क्लब स्पेन के ‘मैड्रिड क्लब’ की स्थापना हुई थी।

1915 राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और रविन्द्रनाथ टैगोर पहली बार शांतिनिकेतन में मिले।

1924 इस्मेत इनोनु ने तुर्की में एक नई सरकार बनायी।

1944 द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान अमेरिका ने मित्र देशों के साथ मिलकर बर्लिन पर भारी बमबारी की।

1947 भारत से ब्रिटिश सैनिकों को हटाये जाने का विरोध में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल ने की घोषणा की।

1947 बॉम्बे से इकनॉमिक टाइम्स का सम्पादन शुरू हुआ था।

1961 भारत का पहला वित्तीय डेली समाचार पत्र ‘द इकोनोमिक टाइम्स’ टाइम्स आफ इंडिया समूह द्वारा बॉम्बे में लॉन्च हुआ।

1967 जोसेफ स्तालिन की बेटी स्वेतलाना भारत स्थित रूसी दूतावास से होते हुए अमेरिका पहुँची।

1998 हिमाचल प्रदेश में वीरभद्र सिंह ने कांग्रेस की सरकार बनाई थी।

6 मार्च को जन्मे महत्वपूर्ण व्यक्ति | आज का इतिहास

1475 इतालवी चित्रकार माइकल एंजेलो का जन्म।

1508 मुगल साम्राज्य का शासक बाबर के बेटे हुमायूँ का अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में जन्म हुआ।

1787 जर्मन भौतिकशास्त्री जोसेफ फॉन फ्रॉन्होफ़र का जन्‍म।

1903 जापान की महारानी कोजुन का जन्‍म।

1945 भारतीय राजनीतिज्ञ, लेखक और कांग्रेस के सदस्य सैयद अहमद का जन्‍म।

6 मार्च को हुए निधन | आज का इतिहास

1928 महान गुजराती साहित्यकार महिपात्रो का निधन हुआ।

1953 जोसेफ़ स्टालिन का निधन।

1962 महान क्रांतिकारी और योद्धा अंबिका चकव्रती का निधन।

1969 रूसी चित्रकार नाडिया रुशेवा का निधन।

Chanakya Niti : लोगों की इस एक बात से प्रभावित होकर कभी ना करें ये गलती

1995 दक्षिण भारत में हिन्दी के प्रचार आन्दोलन के संगठक मोटूरि सत्यनारायण का निधन।

Related Articles

Back to top button
E-Paper