राजस्थान लोकसेवा आयोग का 73 वां स्थापना दिवस समारोह मनाया

 अजमेर. राजस्थान लोकसेवा आयोग का 73 वां स्थापना दिवस समारोह आज अजमेर मुख्यालय परिसर पर भव्यता के साथ मनाया गया।

         अजमेर में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी जयपुर से वर्चुअल माध्यम से जुड़े। अशोक गहलोत ने अपने उद्बबोद्धन में सभी को स्थापना दिवस की बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि

 आयोग की अपनी प्रतिष्ठा है , यह बरकरार रहे , इसके लिये आयोग समयबद्ध  ‘ रिक्रूटमेंट कैलण्डर ‘ के अनुसार काम निर्धारित समय में करेगा तो आम जनता और अभ्यर्थियों में आयोग के प्रति और ज्यादा विश्वास पैदा होगा।

        गहलोत ने कहा कि सरकार ने नौकरियों में कोई कमी नहीं रखी है। आयोग की हाई क्रेडेबिलिटी है और उसे पदों को भरने में परीक्षा आयोजन से परीणाम जारी कर साक्षात्कार तक की पूरी प्रक्रिया को विश्वसनीय तरीके से पूरा करे तो तो आगे भी लगातार प्रतिष्ठा बनाये रखी जा सकती है। उन्होंने आयोग के कार्यवाहक अध्यक्ष डा. शिवसिंह राठौड़ सहित सभी को आयोग में नवाचारों के लिये भी बधाई दी।

        इस मौके पर अशोक गहलोत ने 21 वीं सदी की अत्याधुनिक तकनीक के लिए राजीवगांधी का भी स्मरण किया और कहा कि कम्प्यूटर और  इन्टरनेट ने आज मोबाइल पर जानकरियां उपलब्ध करा सभी को राहत दी है। उन्होंने आयोग के इतिहास की डोक्युमेंट्री फिल्म की भी तारीफ की। गहलोत ने आयोग के साथ जल्द ही दुबारा जोड़ने पर बधाई दी और कार्यक्रम में मौजूद पूर्व अध्यक्षों एवं सदस्यों को उनके योगदान के लिये भी बधाई दी।

        कार्यक्रम में आयोग के छह पूर्व अध्यक्ष मौजूद रहे।आयोग की स्थापना 22 दिसंबर 1949 हुई थी और  इसके पहले अध्यक्ष डा. एस.के.घोष थे। आयोग पहले दो छोटे अलग अलग समय अलग अलग भवनों में संचालित हुए। आज उसके पास  अपना बड़ा भवन है और हाल ही में मुख्यमंत्री गहलोत ने ही नवीन अत्याधुनिक ब्लॉक निर्माण का शिलान्यास किया था

Related Articles

Back to top button
E-Paper