सिटी हास्पिटल मे एडमिट महिला की हुई मौत,लाश के पास हंगामा कर रहे परिजन

अमेठी। नगर मे देवीपाटन के पास स्थित सिटी हास्पिटल मे प्रसव पीडा होने पर भर्ती कराई गई एक महिला की बच्चे के जन्म के बाद खून चढाते समय इलाज के दौरान मौत हो गई। महिला की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल मे जमकर हंगामा काटा। पुलिस के पहुंचने के बाद मामला शांत हुआ है।

सिटी हास्पिटल

खून की कमी से हुई मौत

मंडौली निवासी मीरा (24) को शुक्रवार को प्रसव पीडा होने पर सिटी हास्पिटल मे भर्ती कराया गया था। अस्पताल मे ही उसने बच्चे को जन्म दिया। बच्चे के जन्म के बाद महिला की तबीयत बिगड़ गई। महिला के शरीर मे खून की कमी होने की बात करते हुए अस्पताल के स्टाफ ने उसको खून चढाना शुरू किया। शाम को उसकी मौत हो गई।

छिपाई मौत, किया रेफर

सिटी अस्पताल ने महिला की हालत गंभीर बता कर उसे संजय गांधी अस्पताल भेज दिया। संजय गांधी अस्पताल मुंशीगंज के इमरजेंसी स्टाफ ने महिला को पुनः यह कहकर सिटी हास्पिटल भेज दिया कि महिला दो घंटे पहले मर चुकी है। परिजन उसको.वापस लेकर सिटी हास्पिटल आए और यहां हंगामा शुरू कर दिया।

गोरखपुर कांड : सीएम योगी ने पूरा किया वादा, तेरहवीं से पहले ही पीड़िता को सौंपा नियुक्ति पत्र

अस्पताल नही ले रहे मौत की जिम्मेदारी

हंगामे के बाद कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और.गुस्साए लोगों को शांत किया। महिला की डेड बाडी अभी सिटी हास्पिटल मे ही पडी हुई है। परिजनों का कहना है कि सिटी अस्पताल के चिकित्सकों की लापरवाही से महिला की मौत हुई है। प्रभारी निरीक्षक श्याम सुंदर ने बताया कि महिला की मौत संजय गांधी अस्पताल मे ही हुई है। संजय गांधी अस्पताल के इमरजेंसी स्टाफ ने महिला को भर्ती किया था।यदि महिला की मौत पहले हो चुकी थी तो संजय गांधी अस्पताल के स्टाफ ने उसे क्यों भर्ती किया। परिजन इसे मानने को तैयार नहीं हैं और सिटी अस्पताल को दोषी बता रहे हैं फिलहाल महिला की डेड बाडी सिटी हास्पिटल मे पडी हुई है। दोनों अस्पताल महिला की मौत की जिम्मेदारी लेने को तैयार नहीं हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper