मास्क पहनते समय भूलकर भी ना करें ये गलतियां

मास्क

कोरोनो वायरस महामारी के कारण लोगों से अपील की जा रही है कि वे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और हाथों की स्वच्छता बनाए रखें ताकि वायरस से बचा जा सके। कोरोना वायरस जैसी महामारी से बचने के लिए मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग, हैंड सैनिटाइजर का नियमित प्रयोग जैसे उपाय सुझाए गए हैं। लेकिन अब जब खराब अर्थव्यवस्था को बल देने के लिए देश को अनलॉक किया जा रहा है तो लोग कोरोना के खतरे से बचे रहने के लिए मास्क को अपने लिए सबसे जरूरी हथियार मान रहे हैं।

लेकिन गलत तरीके से पहना गया मास्क वायरस की चपेट में आने की संभावना और व्यक्ति में झूठी सुरक्षा का भ्रम पैदा करता है। यही वजह है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने  लोगों को बताया है कि मास्क पहनते समय वो कौन सी गलतियां कर रहे हैं। आइए जानते हैं।

यह सबसे आम गलतियों में से एक है जो लोग करते हैं। फेस मास्क सिर्फ नाक को ढंकते हैं। इससे संक्रमण के जोखिम की संभावना बढ़ जाती है।  इसलिये एक अच्छे फेस मास्क से हमेशा अपनी नाक और मुंह को को अच्छी तरह से कवर करना चाहिए।

किसी भी मेडिकल मास्क या सर्जिकल मास्क में स्पष्ट पता चलता है कि इसको कैसे पहनना है और उसी अनुसार ही पहनना जरूरी है। यदि आप होममेड फेस कवर पहन रहे हैं तो यह अच्छी तरफ से साफ हो क्योंकि मास्क का बाहरी हिस्सा गंदा हो सकता है। जब आप इसे दोनों साइड पहनते हैं, तो आप बाहर की तरफ जमा सभी पथोजन्स के कॉन्टेक्ट में में आते हैं।

आप मास्क की बाहरी सतह को पूरी तरह से छूने से बचते हैं तो यह बिल्कुल ठीक है। आपको मास्क को लगाना या निकालना है तो इसकी डोर का इस्तेमाल करें। मास्क को छून के बाद हैंड सैनिटाइज़र से हाथों को अच्छी तरह से साफ करें या फिर हाथों को अच्छी तरह से धो लें।

मास्क ठीक से साफ करने के बाद ही पहनना चाहिए। आप कपड़े के मास्क का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसे धोना भी जरूरी है। इसे गर्म पानी और डिटर्जेंट से अच्छी तरह से धोयें और धूप में सूखाकर ही पहनें।

Related Articles

Back to top button
E-Paper