मध्‍य प्रदेश में कांग्रेस की हार के बाद अब कमलनाथ और दिग्विजय के खिलाफ उठने लगी आवाजें

भोपाल। मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा क्षेत्रों में हुए चुनाव में कांग्रेस को मिली हार के बाद पूर्व मुख्यमंत्री व प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ व पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के खिलाफ आवाज उठने लगी है। कांग्रेस नेता और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य हरपाल सिंह ठाकुर ने कमल नाथ से इस्तीफा देने और दिग्विजय सिंह को परामर्शदाता की भूमिका में आने की मांग की है।

मध्‍य प्रदेश

ठाकुर ने एक बयान जारी कर लोकसभा चुनाव में हुई हार के बाद अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि पार्टी हाईकमान ने राज्य के उप-चुनाव कमल नाथ व दिग्विजय सिंह को फ्रीहैंड लड़ने का मौका दिया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पूरी ताकत लगाई, मेहनत की।

उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं की तमाम मेहनत के बाद कांग्रेस उप-चुनाव हार गई, इसलिए पार्टी का जो सिद्धांत है, जिसे राहुल गांधी ने स्थापित किया, वही सिद्धांत राज्य में कमल नाथ को भी पालन करना चाहिए। उन्हें प्रदेशाध्यक्ष व नेता प्रतिपक्ष के पद से इस्तीफा देना चाहिए। कमल नाथ व दिग्विजय सिंह को हार की जिम्मेदारी लेना चाहिए। खिलाड़ी का भावना का परिचय देते हुए दोनों को परामर्शदाता की भूमिका में आना चाहिए। साथ ही राज्य में नए नेतृत्व को मौका दिया जाना चाहिए।

Related Articles

Back to top button
E-Paper