समाजवादी छात्र सभा कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज, बोले अखिलेश – यह ‘खूनी हमला’ है

लखनऊ। नीट-जेईई परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर समाजवादी छात्र सभा के प्रदर्शन पर पुलिस लाठीचार्ज को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ‘खूनी हमला’ करार दिया है। दरअसल जेईइ और नीट की परीक्षा रद कराने के लिए सोमवार को समाजवादी छात्र सभा के छात्रों ने एक बार फिर राजभवन पर जमकर धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान उनकी पुलिस से नोकझोंक भी हुई। कार्यकर्ता सड़क पर बैठ गए और यातायात जाम कर दिया। इस पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज कर दिया।

अखिलेश यादवन ने कहा कि कोरोनाकाल में परीक्षा कराने के विरोध में सड़कों पर उतरे सपा के कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज नहीं ‘खूनी हमला’ हुआ है। उन्होंने कहा कि आज बाल-बच्चों वाला हर परिवार चिंतित है। सबका साथ का दावा करने वाले अकेले लोगों की मनमानी कब तक चलेगी।

सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव ने लाठीचार्ज पर सवाल उठाते हुए कहा कि शांतिमय तरीके से प्रदर्शन करने जा रहे समाजवादी छात्र सभा के लड़कों पर बीच रास्ते में ही लाठी चार्ज क्यों? क्या हम तानाशाही में जी रहे हैं? प्रदर्शन की स्वतंत्रता हमारा मौलिक अधिकार है। दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही हो।

Related Articles

Back to top button
E-Paper