सपा के मुस्लिम प्रत्याशियों को अखिलेश यादव के सजातीय लोग ही वोट नहीं देते: शाहनवाज़ आलम

कांग्रेस लगातार अल्पसंख्यकों के सवालों पर सपा को घेरने का प्रयास कर रही है। शुक्रवार को अल्पसंख्यक कांग्रेस के प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज़ आलम ने परतापुर विधान सभा के उतराव गांव में उलेमाओं के साथ बैठक की। इस बैठक में उन्होंने कहा कि सपा के पास अब अपना जातिगत वोट भी नहीं बचा है, वह जहां पर भी सपा मुस्लिम प्रत्याशी उतार देती है, अखिलेश यादव के सजातीय वोटर भाजपा को वोट कर देते हैं. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में मुस्लिमों के 20 प्रतिशत वोटों पर अखिलेश यादव की 5 प्रतिशत वाली आबादी शासन करती थी, लेकिन अब मुसलमान जागरूक हो रहा है और कांग्रेस के साथ आ रहा है।

कांग्रेस नेता शाहनवाज आलम ने यह भी कहा कि लोकसभा चुनाव में सपा और बसपा गठबंधन के प्रत्याशी सिर्फ़ उन्हीं सीटों पर जीत पाए, जहां मुसलमान मतदाता ज़्यादा थे, जबकि बदायूं, कन्नौज, फिरोजाबाद जैसे सजातीय बहुमत वाली सीटों पर अखिलेश यादव के परिवार के भी लोग चुनाव हार गए, जो साबित करता है कि सपा से उसका जातिगत वोटर भी भाग चुका है। शाहनवाज़ आलम ने उलेमाओं से प्रियंका गांधी की क़यादत को मजबूत करने की अपील भी की और अल्पसंख्यक समाज के लिए प्रियंका गांधी का संदेश भी दिया।

अल्पसंख्यक कांग्रेस के प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज़ आलम ने कहा कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी जी के निर्देश पर अल्पसंख्यक कांग्रेस कुरैशी, अंसारी, मलिक, मंसूरी, सलमानी, इदरिसी, लालबेगी, राइन, गद्दी, घोसी, मनिहार जैसी सपा द्वारा ठगी गयी पसमांदा बिरादरियों के अधिकारों के लिए न सिर्फ़ लड़ रही है, बल्कि अपने चुनावी घोषणापत्र में भी इन समाजों के सवालों को उठाएगी. प्रयागराज गंगा पार अल्पसंख्यक कांग्रेस के ज़िला अध्यक्ष क़मर रिज़वी ने इस बैठक का संचालन किया.

Related Articles

Back to top button
E-Paper