अखिलेश यादव का वादा, किसानों के लिए अलग से फंड बनाएगी सपा सरकार

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि आगामी विधानसभा के चुनाव जनता के भविष्य के चुनाव हैं। भाजपा चुनाव के समय कुछ भी कर सकती है, उससे सावधान रहना है। भाजपा को रोकने की जिम्मेदारी समाजवादी पार्टी और जनता की है क्योंकि किसान की तरह संविधान भी कुचल देंगे। उत्तर प्रदेश की जनता जानती है कि जो जहां से आएगा तो वहीं से निकाला जाएगा। कोई भी अहंकारी बचा नहीं, जनता ने सबको सबक सिखाया है।

अखिलेश यादव

अखिलेश यादव आज सहारनपुर जनपद में चौधरी यशपाल सिंह जी की 100वीं जयंती के अवसर पर आयोजित जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यद्यपि हमारे बीच आज चौधरी साहब नहीं है फिर भी हम उन्हें इसलिए याद करते हैं कि वे लगातार किसानों-गरीबों और आम जनता की लड़ाई लड़ते रहे थे।

Kisan Nyay Rally : लखीमपुर घटना पर बोलीं प्रियंका, पीएम लखनऊ आ सकते हैं, लखीमपुर नहीं

अखिलेश ने कहा कि भाजपा ने किसानों को कुचला, साथ ही कानून को भी कुचला गया, अब संविधान को भी कुचलने की तैयारी है। किसान अन्नदाता है, उसे अपमानित किया जाता है। मवाली और आतंकवादी बताया जाता हैं वे अब तक संघर्ष कर रहे हैं। जब तक तीन काले कृषि कानून वापस नहीं होते तब तक उनका आंदोलन चलता रहेगा। किसानों को फसल की कीमत नहीं मिली, उनकी आय दुगनी करने का वादा पूरा नहीं हुआ। किसानों को गन्ना का बकाया भुगतान अभी तक नहीं मिला। कोरोना संक्रमण के दौर में दवा, इलाज नहीं मिला, लाशों का विधिपूर्वक दाह संस्कार भी नहीं हो सका। सरकार ने जनता को अनाथ छोड़ दिया।

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा राज में बढ़ती महंगाई से सभी त्रस्त हैं। पेट्रोल 100 रूपये के पार हो गया है, कीटनाशक दवाएं, खाद, महंगे हुए हैं। इस सरकार ने खाद की बोरी से खाद चोरी की है। बिजली और सरसों का तेल महंगा हो गया है। लोगों का जीवन चलाना दूभर हो गया है। नोटबंदी से भ्रष्टाचार कहां कम हुआ है? उन्होंने कहा भाजपा राज में नौजवानों का भविष्य चौपट हुआ है। उनको रोजगार नहीं मिल रहा है। लखीमपुर में एफआईआर केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री के बेटे के खिलाफ तब दर्ज हुई जब हम उस लड़ाई में नहीं गए। सरकार तो उसे बचा रही है।

राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ने कहा कि कोई चुनाव छोटा-बड़ा नहीं होता। यह देश की तकदीर बनाता-बिगाड़ता है। यह किसानों-नौजवानों के भविष्य का सवाल है। भाजपा सरकार के मुख्यमंत्री जी केवल रंग और नाम बदलकर अपना काम चला रहे हैं। उन्होंने कहा भाजपा को केवल सत्ता चाहिए। नदियों में गंगा को निर्मल बनाने का संकल्प लिया था परन्तु गंगा आज भी मैली है।

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार राष्ट्रीय सम्पत्ति, सब बेचे जा रहे हैं। आशंका है एक दिन सरकार भी आउटसोर्स से चलाने की बात कह कर भाजपाई निकल जाएंगे। तब बाबा साहेब के संविधान में उल्लिखित अधिकारों का क्या होगा?

राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने सहारनपुर वासियों को भरोसा दिलाया कि समाजवादी सरकार बनने पर एम्बूलेंस बढ़ेंगे, पुलिस को गाड़ियां मिलेंगी, किसानों के लिए अलग से भी फंड बनाकर मदद दी जाएगी, किसानों के बकाए का तुरन्त भुगतान होगा। स्थानीय अधूरा पड़े अस्पताल का निर्माण शुरू होगा, स्थानीय नेता मांग करेंगे तो कोई बड़ा काम भी प्राथमिकता से होगा।

इस अवसर पर जिलाध्यक्ष रुद्रसेन चौधरी, इंद्रसेन, विधायक संजय गर्ग, प0 शिवकुमार शास्त्री, कृष्ण पाल राठी, प्रमोद त्यागी, अतुल प्रधान, पूर्व विधायक आशु मलिक, प्रो0 सुधीर पंवार, फकीर चंद गूजर, योगेश वर्मा मजाहिर राणा, राहुल भारती आदि भी मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper