अमित शाह का ऐलान, भाजपा की परिवर्तन यात्रा सरकार बदलने की नहीं, हालात बदलने की है

कोलकाता भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में चौथे परिवर्तन यात्रा की शुरुआत की है। इस दौरान उन्होंने कहा कि भाजपा की यह यात्रा बंगाल में मुख्यमंत्री अथवा मंत्री बदलने की नहीं बल्कि हालात बदलने की है।

अमित शाह

परिवर्तन यात्रा के उद्घाटन के दौरान शाह ने कहा, “आज यहां परिवर्तन यात्रा शुरू हो रही है, हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बंगाल में तीन जगह से परिवर्तन यात्रा शुरू की है। आज चौथी परिवर्तन यात्रा शुरू हो रही है। मैं तृणमूल के नेताओं को सुन रहा था, वो कह रहे थे कि क्यों परिवर्तन यात्रा निकाल रहे हो, ठीक ही तो चल रहा है। मैं आज बंगाल की इस प्रचंड जन मानस के बीच ये कहने आया हूं कि ये परिवर्तन यात्रा किसी मुख्यमंत्री को बदलने की परिवर्तन यात्रा नहीं है, किसी नेता को हराकर दूसरे नेता को लाने का नहीं है, ये परिवर्तन यात्रा बंगाल की स्थिति में परिवर्तन करने की यात्रा है।”

शाह ने कहा, “तृणमूल कांग्रेस और कांग्रेस पार्टी ने यहां के विकास के लिए कुछ नहीं किया है। भाजपा की सरकार, मोदी जी के सूत्र सबका साथ-सबका विकास को मानकर चलती है। हम सभी समाजों को, समाज की संस्कृति, भाषा, संगीत, साहित्य को आगे लेकर जाने वाले लोग हैं, इसीलिए धीरे-धीरे पूरा भारत मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा से जुड़ा हुआ है।”

ऐतिहासिक होगा बंगाल चुनाव

शाह ने संबोधन करते हुए कहा कि, “ममता दीदी, ये बंगाल का चुनाव इस बार ऐतिहासिक होने जा रहा है। आपके दंगा प्रमुख गुंड़ों के सामने मेरी भाजपा बूथ प्रमुख लड़ाई लड़ने वाला है, बूथ का कार्यकर्ता लड़ने वाला है। ममता दीदी, ये लड़ाई आप जीत नहीं सकती क्योंकि बंगाल की जनता ने तय कर लिया है परिवर्तन करके ही रहेंगे।”

जय श्रीराम से क्यों चिढ़ती हैं ममता

इस दौरान अमित शाह https://en.wikipedia.org/wiki/Amit_Shahने ममता बनर्जी से पूछा कि वह जय श्रीराम के नारे से क्यों चिढ़ती है। ममता बनर्जी ने जय श्री राम को बंगाल में अपराध बना दिया है। जय श्री राम के नाम से ही ममता बनर्जी को नफरत हो गई है। मैं पूछना चाहता हूं कि आखिर इसकी वजह क्या है?

सरकार बनाने का आह्वान

अमित शाह ने कहा, “इस बार नरेन्द्र मोदी के विकास के मॉडल और ममता के विनाश के मॉडल के बीच में चुनना है कि बंगाल क्या चाहता है। इस चुनाव में बंगाल में ऐसी सरकार बना दीजिए, जो नरेन्द्र मोदी के साथ रहकर राज्य का विकास करे। एक इंजन मोदी जी का, दूसरा इंजन बंगाल में भाजपा सरकार का। ये डबल इंजन बंगाल को बहुत आगे ले जाएगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper