पैतृक सम्पत्ति विवाद : पुजारी की गला रेत कर हत्या का प्रयास, हालत गम्भीर

संतकबीर नगर। जिले के घनघटा थाना क्षेत्र के पचरा डिहवा स्थित देइमाई मन्दिर के पुजारी की बदमाशों ने गला रेत हत्या का प्रयास किया है। घटना के समय वक्त पुजारी सो रहे थे। पुजारी को गोरखपुर मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है। घटना का कारण पैतृक सम्पत्ति का विवाद बताया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक घनघटा थाने के ग्राम तिलकूपुर निवासी भानू दास (55) पचरा डिहवा स्थित देइमाई मन्दिर पर पूजा-पाठ का काम करते थे।

बुधवार की रात भोजन कर भानू दास सोने चले गए। रात लगभग 11 बजे कुछ बदमाश मन्दिर में घुसे और वहां सो रहे पुजारी के गले पर धारदार हथियार से हमला कर दिया।

इसी बीच मन्दिर के बगल के रास्ते से कुछ राहगीर गुजर रहे थे। उन लोगों को देख बदमाश पुजारी को अधमरा छोड़ भाग निकले। बदमाशों को भागते देख राहगीरों को कुछ शक हुआ। वह मन्दिर में दाखिल हुए तो पुजारी को खून से लथपथ देखा। राहगीरों ने इसकी सूचना गांव वालों और पुलिस को दी।

मौके पर पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से घायल पुजारी को हैंसर सीएचसी पहुंचाया गया। डॉक्टरों ने पुजारी को जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया।

बाद में हालत बिगड़ने पर वहां से गोरखपुर मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर किया गया है। घटना का कारण पैतृक सम्पत्ति का विवाद बताया जा रहा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper