वसुधैव कुटुंबकम के भाव से विश्व की सेवा में आगे है भारत : विधानसभा अध्यक्ष

विधानसभा अध्यक्ष

बेगूसराय। विधायिका और पदाधिकारी के बीच समन्वय बहुत जरूरी है, तभी विश्वसनीयता और उसका सम्मान बना रहेगा। इससे पदाधिकारियों के अंदर भाव और विधान के जो अधिकार हैं, उसके साथ-साथ हर व्यक्ति की जिम्मेवारी का निर्धारण बना रहेगा।

यह बातें बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने बेगूसराय के विधायक, विधान पार्षद एवं अधिकारियों के साथ बैठक के बाद बुधवार रात पन्हास गार्डन एंड रिसॉर्ट में बुद्धिजीवी मिलन एवं सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए कही।

निजी स्कूलों को आनलाइन राशि प्रदान करने वाला देश का पहला राज्य बना छत्तीसगढ़

उन्होंने कहा कि राजनीति में कई तरह के अधिकार की बात होती है लेकिन उस अधिकार के साथ-साथ संविधान के अंदर जो जिम्मेदारी तय की गई है, उसे भूलना नहीं चाहिए। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि स्कूल-कॉलेज में शिक्षा मिलती है, किताबों में ज्ञान की बातें होती है। लेकिन अनुभव का जो ज्ञान होता है वह अभिभावक से मिलता है और अभिभावक का सम्मान अपनी विरासत की पहचान है। प्रकृति हमारी संस्कृति और विरासत को प्रकृति भी नहीं मिटा पाती है। सांस्कृतिक विरासत अपने राष्ट्र के अंदर वेद वेदांत की भाषा को परिभाषित करता है।

मध्य प्रदेश : भोजपुर शिव मंदिर पर नहीं लगेगा संक्रांति का मेला, जानें वजह

उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने 19वीं सदी में जो भविष्यवाणी की थी, वह आज सच साबित हो रही है तथा 21वीं सदी के युवाओं को प्रेरणा देने वाला है। 19वीं सदी में स्वामी विवेकानंद ने भविष्यवाणी की थी कि 21वीं सदी भारत का होगा और भारत विश्वगुरु बनेगा, अपने-अपने क्षेत्र में अपने-अपने कला से विश्व को मार्गदर्शन करेगा। आज स्वामी विवेकानंद के भविष्यवाणी के अनुरूप विश्व के लोग भारत की ओर आशा भरी नजरों से देख रहे हैं। भारत हमेशा वसुधैव कुटुंबकम के भाव से विश्व की सेवा में अग्रणी भूमिका निभा रहा है।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि बेगूसराय की धरती धन्य है, यहां ऐसे महापुरुष पैदा हुए जो बिहार और देश ही नहीं, विश्व स्तर पर सम्मानित हुए। यह धरती मां गंगा के तट पर संस्कृति को समाहित करते हुए 21वीं सदी के युवाओं का मार्गदर्शन कर रही है।

इस अवसर पर उन्होंने शिक्षा, रंगकर्म, संगीत, स्वास्थ्य, कानून, समाजसेवा, खेल और कृषि के क्षेत्र में अद्वितीय योगदान करने वाले 35 लोगों को सम्मानित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता मेयर उपेंद्र प्रसाद सिंह, संचालन डॉ. राहुल कुमार तथा धन्यवाद ज्ञापन कार्यक्रम संयोजक डॉ. नलिनी रंजन सिंह ने किया।

मौके पर मटिहानी विधायक राजकुमार सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष राज किशोर सिंह, पूर्व विधायक श्रीकृष्ण सिंह, आईएमए के कार्यकारी सचिव डॉ. रंजन चौधरी भाजपा नेता सुमित सन्नी, शुभम कुमार एवं मृत्युंजय कुमार, वीरेश समेत जिला भर के प्रमुख बुद्धिजीवी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper