बाबरी विध्वंस केस : सीबीआई अदालत का बड़ा फैसला, पूर्व नियोजित नहीं था, सभी आरोपी बरी

लखनऊ। अयोध्या विवादित ढाँचे के विध्वंस मामले में बुधवार को सीबीआइ की विशेष अदालत ने अपना फैसला सूना दिया है। अदालत ने विध्वंस को पूर्व नियोजित नहीं माना है। लालकृष्ण आडवाणी, डॉ. मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती समेत सभी आरोपियों को अदालत ने बरी कर दिया है।

उल्लेखनीय है कि 28 वर्ष तक चली सुनवाई के बाद ढांचा विध्वंस मामले में फैसला सुनाने के लिए सीबीआई की विशेषअदालत ने सभी आरोपियों को आज तलब किया था। हालांकि आडवाणी, जोशी और उमा समेत कई आरोपी आज अदालत में पेश नहीं हुए। फैसले को लेकर रामनगरी की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper