उत्तर प्रदेश से पहली बार निर्यात किया गया केला, लखीमपुर किसानों के नाम बड़ी उपलब्धि

किसान आंदोलन के दौरान हिंसा की वजह से लखीमपुर सुर्ख़ियों में था लेकिन उत्तर प्रदेश का लखीमपुर इन दिनों फिर से चर्चा में है लेकिन इस बार चर्चा का कारण कोई हिंसा नहीं बल्कि किसानों की उपज है। दरअसल यूपी से पहली बार विदेश में केला भेजा जाएगा। जो लखीमपुर के किसानों को एक बड़ी उपलब्धि मिली है।40 मीट्रिक टन केला ईरान भेजा जा रहा है। केले की पहली खेप 14 अक्टूबर को ईरान के लिए रवाना हो चुकी है। जिसे पहुंचने में 15 दिन का समय लगेगा। लखिमपुर खीरी के किसानों के नाम यह बड़ी उपलब्धि दर्ज होगी।

उत्तर प्रदेश

उच्चस्तरीय तकनिकी का किया गया इस्तेमाल

यूपी के किसान अब तक केले के निर्यात और अंतरराष्ट्रीय बाजार से दूर थे क्योंकि अब तक केले का निर्यात महाराष्ट्र, आंधप्रदेश जैसे राज्यों से केला निर्यात किया जाता था। केले की यह पहले खेप ईरान के लिए मैसर्स- देसाई एग्रो फूड्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा रवाना की गई। जो कि कार्गो समुद्री मार्ग से भेजा गया है। इसके लिए उच्चस्तरीय तकनिकी का इस्तेमाल किया गया व् ‘मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट’ को माध्यम बनाया गया ।

विदेश मंत्री एस जयशंकर करेंगे इजरायल का दौरा, इजरायल के मिनिस्‍टर ने दी जानकारी

लखनऊ के मलिहाबाद में इसकी पैकिंग की गई। केले की खेप को कानपुर से ट्रेन से मुंबई के जवाहर लाल नेहरू पोर्ट पहुंचाया गया जहाँ से ईरान के लिए रवाना किया गया। ऐसा पहली बार हुआ है जब विदेश बाजार में यूपी से केला भेजा गया है। इस अवसर पर राज्य के अपर मुख्य सचिव कृषि एवं विपणन तथा कुछ अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थत थे तथा लखीमपुर, बरेली और लखनऊ के किसानों को भी बुलाया गया था।

Related Articles

Back to top button
E-Paper