कोलकाता: फरवरी महीने में जारी हो सकती है बंगाल विधानसभा चुनाव की अधिसूचना

विधानसभा चुनाव

पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव की अधिसूचना फरवरी महीने में जारी हो सकती है। राज्य चुनाव आयोग के सूत्रों ने गुरुवार को इस बारे में जानकारी दी है। दरअसल एक दिन पहले ही केंद्रीय निर्वाचन उपायुक्त सुदीप जैन बंगाल आए हैं। उन्होंने राज्य के सभी जिलाधिकारियों और पुलिस प्रमुखों के साथ बैठक की है। इसके अलावा राज्य के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक के बाद इस तरह के संकेत उन्होंने दिया है कि फरवरी महीने में ही विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी हो सकती है।

मध्य प्रदेश : भोजपुर शिव मंदिर पर नहीं लगेगा संक्रांति का मेला, जानें वजह

सुदीप जैन ने इस बात का संकेत दिया है कि मई महीने में पड़ने वाली भीषण गर्मी से पहले ही चुनाव की पूरी प्रक्रिया संपन्न कर ली जाएगी। अमूमन पश्चिम बंगाल में चुनाव की प्रक्रिया अब तक मार्च महीने के पहले या दूसरे सप्ताह से शुरू होती रही है लेकिन इस बार फरवरी महीने में ही इसकी शुरुआत होने की संभावना है।

कोलकात्ता : मकर संक्रांति पर गंगासागर में आठ लाख लोगों ने लगाई आस्था की डुबकी

इसके अलावा मई महीने के द्वितीय सप्ताह तक वोट गणना की परंपरा रही है लेकिन खबर है कि मई महीने के पहले ही नई सरकार गठित कर ली जाएगी। इसके लिए अप्रैल महीने के अंत में पड़ने वाली गर्मी को ध्यान में रखते हुए निर्णय लिए जा रहे हैं। चुनाव आयोग के सूत्रों ने बताया है कि फरवरी महीने में अगर चुनाव की अधिसूचना जारी हो जाती है तो मार्च महीने में चुनाव प्रचार करने में उम्मीदवारों को काफी सुविधा होगी।

आपको बता दें कि ममता बनर्जी ने कांग्रेस से अलग होकर 1998 में तृणमूल कांग्रेस की स्थापना की थी।राज्य में 2016 में हुए विधानसभा चुनावों में कांग्रेस और वाम मोर्चा के गठबंधन को कुल 294 में से 76 सीटें मिली थीं जबि तृणमूल कांग्रेस के 211 सीटें मिली थीं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper