भदोही केस में बड़ा खुलासा, सामने आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट

भदोही

भदोही। जनपद में गुरुवार को एक नाबालिग लड़की का शव मिला था। परिवार के लोगों ने शव की दशा को देखकर दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई थी। शुक्रवार को इस मामले से पर्दा उस वक्त उठ गया, जब मृतका की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आयी। पुलिस अधीक्षक का कहना है कि रिपोर्ट के मुताबिक नाबालिग लड़की से दुष्कर्म नहीं हुआ था बल्कि उसकी गला दबाकर और सिर कूचकर हत्या की गयी थी। पुलिस इस मामले में तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

पुलिस अधीक्षक आरबी सिंह ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मीडिया को बताया कि गुरुवार को गोपीगंज थाने तिवारीपुर (चकराजाराम) गांव में दोपहर शौच को गई एक नाबालिग जिसकी उम्र ग्यारह साल थीं। उसकी सिर कूच कर हत्या कर दी गई थीं। आशंका यह जताई गई थीं कि नाबालिग के साथ दुष्कर्म भी हो सकता है। लेकिन शुक्रवार को आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में नाबालिग से बलात्कार की पुष्टि नहीं हुई है, बल्कि उसकी हत्या गला दबाकर और ईंट से कूच कर की गई।

ये भी पढ़ें- गांधी जयंती : राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और यूपी सीएम ने दी बापू को श्रद्धांजलि

मामले में पुलिस ने पड़ोस के रहने वाले तीनों आरोपित कुंदन, प्रिंस और कलेक्टर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। दो आरोपित पिता-पुत्र हैं। इन आरोपितों का मृतका के परिजनों से पुरानी रंजिश थी, जिसे लेकर आरोपितों ने किशोरी की निर्मम तरीके से हत्या कर दी है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अभियुक्तों से पूछताछ में पता चला है कि मृतका के घर रहने वाले एक रिश्तेदार लड़के पर आरोपितों को शक था कि उनके घर की एक लड़की पर उसकी गलत निगाह है। इसी बात को लेकर 28 सितम्बर को विवाद हुआ था। उसी शक में बदला लेने के लिए यह तरीका अपनाया गया। नाबालिग के अलावा परिवार का कोई और अकेले मिलता तो उसकी भी कर देते।

Related Articles

Back to top button
E-Paper