बड़ी खबर : वैग में मिला पांच माह का बच्चा, पांच हजार रुपए के साथ पिता ने पत्र भी छोड़ा

अमेठी। कोतवाली मुंशीगंज अन्तर्गत त्रिलोकपुर गांव में एक घर में एक बैग में 5 महीने का बच्चा मिला है। बैग में सर्दियों के कपड़े, जूता, जैकेट, साबुन, विक्स, दवाएं और 5 हजार रुपए भी रखे हुए थे। इस बैग में एक खत भी था, जिसे शायद बच्चे के पिता ने लिखा है। पत्र में लिखा है कि मेरे बेटे को 5-6 महीने पाल लो, मैं हर महीने पैसे दूंगा। मेरे बेटे के लिए परिवार में खतरा है।

हमारे अमेठी संवादाद्ता के मुताबिक़ त्रिलोकपुर गांव के आनंद ओझा के घर पर ये बैग रखा गया था। बच्चे के रोने की आवाज सुनकर घर वाले और ग्रामीण इकट्ठा हुए। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई थी। एसओ ने बताया कि बच्चे को आनन्द ओझा की सुपुर्दगी में दिया गया है। चाइल्ड केयर संस्था को सूचित किया गया है।

बैग में मिले खत में लिखा गया है, ‘यह मेरा बेटा है। इसे मैं आपके पास 6-7 महीने के लिए छोड़ रहा हूं। हमने आपके बारे में बहुत अच्छा सुना है इसलिए मैं अपना बच्चा आपके पास रख रहा हूं। 5000 रुपए महीने के हिसाब से मैं आपको पैसा दूंगा। आपसे हाथ जोड़कर विनती है कि कृपया इस बच्चे को संभाल लो। मेरी कुछ मजबूरी है। इस बच्चे की मां नहीं है। मेरी फैमिली में इसके लिए खतरा है इसलिए 6-7 महीने तक आप अपने पास रख लीजिए। सब कुछ सही करके मैं आपसे मिलकर अपने बच्चे को ले जाऊंगा।’

आगे लिखा है, “मैं बच्चा आपके पास छोड़कर गया, यह किसी को मत बताना नहीं तो यह बात सबको पता चल जाएगी। जो मेरे लिए सही नहीं होगा। सबको यह बता दीजिएगा कि यह बच्चा आपके किसी दोस्त का है। तब तक आप अपने पास इसे रखिए, मैं आपसे मिलकर भी दे सकता था, लेकिन यह बात मुझ तक रहे, तभी तक सही है। मेरा एक ही बच्चा है। इसकी जिम्मेदारी लेने से डरना नहीं। भगवान ना करें, पर अगर कुछ होता है तो फिर मैं आपको ब्लेम नहीं करूंगा। मुझे आप पर पूरा भरोसा है, बच्चा पंडित के घर का है।’

Related Articles

Back to top button
E-Paper