बिहार विधानसभा चुनाव : कौन बनेगा मुख्यमंत्री? इन दावेदारों के बीच जंग

गाजियाबाद

बिहार विधानसभा की 243 सीटों पर तीन चरणों में संपन्न चुनाव की मतगणना मंगलवार को होगी। इसके लिए चुनाव आयोग ने पूरी तैयारी कर ली है। सभी मतगणनास्थलों पर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। राज्य में मतगणना के लिए 38 जिलों में 55 मतगणना केंद्र बनाए गए हैं, जहां मंगलवार को मतों की गिनती की जाएगी।

बिहार में तीन चरणों 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को मतदान का कार्य किया गया था। 10 नवंबर को सभी चरणों में हुए मतदान को लेकर मतों की गिनती होगी, जिसके बाद यह तय हो जाएगा कि अगले पांच सालों तक बिहार की सत्ता किसके पास होगी।

बिहार राज्य निर्वाचन आयोग के मुताबिक, पूर्वी चंपारण, सीवान, बेगूसराय और गया में तीन-तीन नालंदा, बांका, पूर्णिया, भागलपुर, दरभंगा, गोपालगंज, सहरसा में दो-दो मतगणना केंद्र बनाए गए हैं। 55 मतगणना केंद्रों में 414 हॉल बनाए गए हैं।  इन सभी केंद्रों पर 8 बजे से मतगणना का काम प्रारंभ होगा, संभावना है कि नौ बजे तक पहला रूझान सामने आ पाएगा। पहला परिणाम दिन के तीन बजे तक आने की संभावना है।

बिहार के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एच आर श्रीनिवास ने कहा कि चुनाव आयोग ने स्ट्रांग रूम और मतगणना केंद्रों के लिए त्रिस्तरीय सुरक्षा स्थापित की है। सुरक्षा के लिहाज से केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल फिर बिहार सैन्य पुलिस और फिर जिला पुलिस को तैनात किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि सभी मतगणना केंद्रों की सीसीटीवी निगरानी रखी जा रही है। उन्होंने बताया कि केंद्रों की बैरिकेडिंग की गई है, पासधारी को ही केंद्र में जाने की अनुमति होगी। इधर, पटना जिले में मतगणना केंद्र ए एन कॉलेज परिसर में बनाया गया है, जहां सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गई है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper