दलित छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति भाजपा सरकार ने समाप्त किया

दलित छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति भाजपा सरकार ने समाप्त किया

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव  के आह्वान पर समाजवादी छात्र नौजवान जागरूकता अभियान के तहत छात्रसभा के प्रदेश अध्यक्ष दिग्विजय सिंह देव के नेतृत्व में पूरे प्रदेश के विभिन्न जिलों में गोष्ठी का आयोजन हुआ। भारतीय संविधान बचाने हेतु छात्र संवाद स्थापित करते हुए भाजपा सरकार की दमनकारी छात्र-नौजवान विरोधी नीतियों को बताया गया। सरकार द्वारा निकाली जा रही नौकरियों में पिछड़े वर्ग के छात्रों का आरक्षण साजिश के तहत खत्म किया जा रहा है।

 दलित छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति एवं जीरो फीस को  भाजपा सरकार ने लगभग समाप्त कर दिया है। छात्र संघ चुनाव पर रोक लगा कर बीजेपी की सरकार मनमाने ढंग से विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय चला रही है। विश्वविद्यालय महाविद्यालय एवं कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों और नौजवानों के अंदर इस दमनकारी सरकार को लेकर बहुत ही आक्रोश है। छात्रों और छात्राओं ने गोष्ठी में श्री अखिलेश यादव को 2022 में मुख्यमंत्री बनाने का संकल्प लिया।

दलित छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति भाजपा सरकार ने समाप्त किया

 महानगर अध्यक्ष मोहम्मद जुहैब कुरैशी के नेतृत्व में पूरे लखनऊ में साइकिल यात्रा निकाली गयी। उसका समापन प्रदेश कार्यालय लखनऊ में किया गया।

 महात्मा गांधी जी की जयंती के अवसर पर साइकिल यात्रा में सर्वश्री महासचिव अजीत सिंह यादव, उपाध्यक्ष जीतू कश्यप, मोहम्मद आसिफ, मुफीद, नगर सचिव अनुज शर्मा, योगेश, विलाल, हिमांशी यादव, आशीष पाल, सूरज तिवारी, राहुल वर्मा आदि शामिल रहे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper