आज से शुरू होगा भाजपा का घर-घर जनसंपर्क अभियान,कोरोना नियमों का किया जाएगा पालन

उत्तरप्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र राज्य में जन विश्वास यात्राओं के जरिए प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को हर विधानसभा क्षेत्र तक पहुंचाने के बाद अब भारतीय जनता पार्टी आज 11 जनवरी से प्रदेश भर में जनसंपर्क अभियान शुरू करेगी।

अभियान के तहत पार्टी के नेता और कार्यकर्ता कोरोना प्रोटोकॉल का करेंगे पालन
लोगों को केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा किसानों, श्रमिकों, महिलाओं, युवाओं के लिए किए गए कार्यों की जानकारी लोगों को देंगे। इस दौरान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बताया कि इस अभियान के तहत पार्टी के नेता और कार्यकर्ता कोरोना प्रोटोकॉल पालन करते हुए घर-घर जाएंगे। लोगों को बताएंगे कि प्रदेश की योगी सरकार ने कैसे अपराधियों पर नकेल कसी, कैसे बेघरों को आवास मुहैया कराए, घर-घर बिजली पानी पहुंचाने के लिए प्रयास किए तथा कैसे यूपी को रोजगार प्रदेश बनाया और कैसे किसानों के जीवन को खुशहाल बनाया है।

लोगों को मास्क और सैनिटाइजर का वितरण भी कार्यकर्ताओं द्वारा किया जाएगा
सभी 403 विधानसभा क्षेत्रों के अनुरूप टोलियां बनाई गई हैं। सभी टोलियों में चुनाव आयोग के निर्देशों के तहत अधिकतम 5 कार्यकर्ता शामिल किए गए हैं। संपर्क के क्रम में सभी टोलियों के लोग कोविड व्यवहार का पालन करेंगे। लोगों को मास्क और सैनिटाइजर का वितरण भी कार्यकर्ताओं द्वारा किया जाएगा। इसके अतिरिक्त संपर्क टोली लोगों के घरों में भाजपा के स्टीकर और झंडे भी लगाने का आग्रह करेगी। अभियान के तहत साढ़े तीन करोड़ लाभार्थियों से विशेष तौर पर सम्पर्क की योजना बनाई गई है। इस अभियान के तहत तीन श्रेणियों में कार्यकर्ता प्रवास करेंगे। इसमें महिला संपर्क, सामाजिक संपर्क और लाभार्थी संपर्क शामिल हैं।

राज्य में सभी लोगों को कोरोना का मुफ्त टीका लगाया जा रहा है
भाजपा की डबल इंजन की सरकार में 15 करोड़ गरीबों को डबल राशन के साथ, प्रदेश सरकार मुफ्त राशन, तेल, शक्कर, दाल का वितरण कर रही है। 3.10 करोड़ श्रमिकों को भरण पोषण के लिए 500 रुपए प्रतिमाह देने और 23 लाख श्रमिकों को भरण पोषण के लिए 1000 रुपए प्रति माह देने के लिए 230 करोड़ रुपए की धनराशि दी गई है। राज्य में सभी लोगों को कोरोना का मुफ्त टीका लगाया जा रहा है। यूपी को रोजगार प्रदेश बनाते हुए 4.50 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी गई और यूपी देश में 44 योजनाओं में अब नंबर वन के स्थान पर पहुंच गया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper