पश्चिम बंगाल में शनिवार से शुरू हो रही है भाजपा की रथयात्रा, फिलहाल प्रशासनिक मंजूरी नहीं

कोलकाता पश्चिम बंगाल में आसन्न विधानसभा चुनाव से पहले व्यापक जनसंपर्क के लिए प्रस्तावित पांच रथ यात्राओं का आगाज भारतीय जनता पार्टी की बंगाल इकाई शनिवार को करने जा रही है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा इस रथयात्रा को हरी झंडी दिखाएंगे। हालांकि बंगाल सरकार ने अभीतक समग्र तौर पर रथ‌ यात्राओं को अनुमति नहीं दी है और स्थानीय प्रशासन से इसके लिए आवेदन करने को कहा है। भाजपा ने सारे कागजात तैयार कर जमा भी कराया है।

रथयात्रा

दरअसल राज्य में आसन्न विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा हर हाल में सत्ता पर काबिज होने का लक्ष्य लेकर चल रही है। इसीलिए पार्टी के केंद्रीय नेताओं ने राज्य में लगभग डेरा ही डाल दिया है। शनिवार यानी 06 फरवरी को नदिया जिले के नवदीप से रथयात्रा की शुरुआत होगी। यह रथ नवदीप से शुरू होकर नदिया, मुर्शिदाबाद और उत्तर 24 परगना के विधानसभा क्षेत्रों से घूमते हुए बैरकपुर में आकर खत्म होगी।

पश्चिम बंगाल : बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी के खिलाफ अभिषेक बनर्जी ने किया मानहानि का मुकदमा

उसके बाद आठ फरवरी को कूचबिहार और काकद्वीप से दो रथ यात्राओं की शुरुआत होगी जिसे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह हरी झंडी दिखाएंगे। कूचबिहार से जो रथ यात्रा शुरू होगी वह उत्तर बंगाल घूमते हुए मालदा में खत्म होगी जबकि काकद्विप से शुरू होने वाली रथयात्रा दक्षिण 24 परगना से होते हुए कोलकाता में आकर खत्म होगी।

आगामी 9 फरवरी को झाड़ग्राम और तारापीठ से दो रथ यात्राओं की शुरुआत की जाएगी जिसे भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा हरी झंडी दिखाएंगे। यह रथयात्रा झाड़ग्राम से होते हुए पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर और हुगली घूमते हुए हावड़ा में आकर खत्म होगी। जबकि तारापीठ से शुरू होने वाली रथयात्रा बीरभूम, बर्दवान, आसनसोल, बांकुड़ा होते हुए पुरुलिया में आकर खत्म होगी।

प्रत्येक रथयात्रा को राज्य के विभिन्न हिस्सों से होकर गुजरते हुए विधानसभा क्षेत्रों में जनसंपर्क में कम से कम 20 से 25 दिन का समय लगेगा। इन रथयात्राओं की सुरक्षा और प्रस्तावित रूट को लेकर मुख्य सचिव अलापन बनर्जी से मिलने और चर्चा के लिए प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष प्रताप बनर्जी ने चिट्ठी दी थी लेकिन मुख्य सचिव ने जवाबी चिट्ठी देकर स्पष्ट कर दिया है कि भाजपा को रथयात्राओं की अनुमति के लिए स्थानीय प्रशासन के पास ही आवेदन करना होगा।

प्रदेश भाजपा सूत्रों ने यह भी बताया है कि जब रथयात्रा चलेगी तब उद्घाटन करने के बाद भी किसी न किसी दिन आकर जेपी नड्डा और अमित शाह उसी रथयात्रा में कहीं ना कहीं शामिल होंगे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper