अभी तब खाया है भूरा जीरा तो अब करें काले जीरे का इस्तेमाल

अभी तब खाया है भूरा जीरा तो अब करें काले जीरे का इस्तेमाल

भारतीय रसोई में कई तरह के मसालों का इस्तेमाल होता है। वहीं खाने में तडक़ा लगाने जीरे का इस्तेमाल खासतौर पर होता है। इससे खाने का स्वाद बढऩे के साथ सेहत दुरुस्त रहने में मदद मिलती है। मगर बाजार में भूरा और काला दो तरह का जीरा मिलता है। आमतौर पर लोग ब्राउन यानि भूरा जीरा ज्यादा खाते हैं। मगर बात काले जीरे की करें तो वह भी पोषक तत्व व औषधीय गुणों से भरपूर होता है।

काला जीरा- यह खाने में थोड़ा कड़वा स्वाद देता है। इसमें विटामिन सी, के, ई, बी1, बी2, बी3, फाइबर, कैल्शियम, प्रोटीन, मिनरल्स, मैंगनीज, आयरन, जिंक, कार्बोहाइड्रेट आदि पोषक तत्व होते हैं। मगर सर्दियों से इसका इस्तेमाल हर्बल औषधी के तौर पर छोटी-मोटी बीमारियों के इलाज में होता आ रहा है। चलिए आज हम आपको इस आर्टिकल में काले जीरे के फायदे बताते हैं…

वजन घटाने में कारगर

काला जीरा वजन कम करने में मदद करता है। एक्सपट्र्स के मुताबिक जीरे का पानी पीने से शरीर में जमा एक्सट्रा चर्बी कम होती है। ऐसे में यह बॉडी को सही शेप दिलाने में कारगर माना गया है। इसके लिए 1/2 गिलास पानी में 1 छोटा चम्मच जीरा डालकर रातभर भिगोएं। सुबह इसघ् पानी को हल्का गर्म करके व छानकर खाली पेट पीएं।

पाचन रहेगा दुरूस्त

पाचन शक्ति बढ़ाने में भी काला जीरा कारगर माना गया है। भोजन के बाद थोड़ा सा काला जीरा खाना फायदेमंद होता है। इसके सेवन से पेट दर्द, पेट फूलना, पेट में कीड़े, एसिडिटी, अपच, पेट में भारीपन आदि समस्याओं से छुटकारा मिलता है।

कैंसर से बचाव

एक्सपट्र्स के अनुसार काले जीरे में एंटी-इंफ्लेमेटरी,  एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल, एंटी-कैंसर आदि गुण होते हैं। इसका सेवन करने से यह शरीर में कैंसर कोशिकाओं को बनने से रोकता है। ऐसे में कैंसर जैसी गंभीर बीमारी की चपेट में आने का खतरा कम रहता है।

सिरदर्द से दिलाए छुटकारा

काले जीरे से तैयार तेल माथे व सिर पर लगाने से माइग्रेन जैसे दर्द से राहत मिलती है।

 दांत दर्द से छुटकारा दिलाए

सिरदर्द की तरह दांत दर्द की शिकायत दूर करने में भी काला जीरा फायदेमंद माना गया है। इसके लिए गर्म पानी में काले जीरे तेल की 3-4 बूंदें मिलाएं। फिर इससे कुल्ला करें। लगातार कुछ दिनों तक  सुबह-शाम इस उपाय को आजमाएं। दांत दर्द से आराम मिलेगा।

बरतें सावधानी

  • काले जीरे की तासीर गर्म होने के कारण इसे एक दिन में 3 ग्राम से अधिक ना खाएं।
  • हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों, गर्भवती महिलाओं और 5 साल तक के बच्चे भी इसका सेवन डॉक्टर की सलाह से करना चाहिए।
  • काले जीरे से चूर्ण का सेवन करने के लिए इसे गुनगुने पानी में मिलाकर पीएं। साथ ही इसका सेवन रात को सोने से पहले या भोजन के 2 घंटे बाद करें। इसके सेवन के बाद कुछ भी खाने से बचें।

Related Articles

Back to top button
E-Paper