शरणार्थी संकट के लिए तुर्की को दोष देना ‘वास्तविक कृतघ्नता’: एर्दोगन

अंकारा. तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने गुरुवार को यूनान के प्रधानमंत्री किरियाकोस मित्सोताकिस पर ‘झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए कहा कि शरणार्थी संकट के लिए तुर्की को दोष देना ‘वास्तविक कृतघ्नता है।

 एर्दोगन ने हंगरी के प्रधानमंत्री विक्टर ओरबान के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, “यह कहना वास्तव में कृतघ्नता है कि शरणार्थी संकट तुर्की के कारण है।”

उन्होंने कहा कि वह यूनान है जो शरणार्थियों को उनकी मौत के लिए भूमध्यसागर और एजियन सागर में धकेलता है।

 मित्सोताकिस ने मंगलवार को कहा था कि यूनान ने तुर्की से आने वाली नौकाओं को रोका लेकिन इस दावे से इनकार किया कि उनकी सरकार ने शरणार्थियों को पीछे धकेला है। उन्होंने कहा, “तो यूनान को दोष देने के बजाय, आपको इसका आरोप उन लोगों को देना चाहिए जो व्यवस्थित रूप से प्रवासन में सहायक रहे हैं।”

पोलैंड और फिर जर्मनी में शरण लेने के लिए हजारों शरणार्थी बेलारूस से सटी सीमा पर जमा हो रहे हैं।

तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुत कावुसोग्लू ने बुधवार को इस मुद्दे पर पोलैंड के अपने समकक्ष जबिग्न्यू राऊ के साथ फोन पर चर्चा की.

Related Articles

Back to top button
E-Paper