नवाज की सेहत की जांच के लिए बने बोर्ड: अटॉर्नी

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की स्वास्थ्य स्थिति के निर्धारण के लिए पाकिस्तान के अटॉर्नी जनरल के कार्यालय ने बुधवार को पंजाब सरकार से एक मेडिकल बोर्ड या समिति गठित करने पर विचार करने को कहा। पूर्व प्रधानमंत्री को नवंबर 2019 में लाहौर उच्च न्यायालय की एक पीठ द्वारा चिकित्सा उपचार के लिए चार सप्ताह के लिए विदेश यात्रा करने की अनुमति दी गई थी।

डॉक्टरों द्वारा उनका स्वास्थ्य ठीक होने पर यात्रा के लिए फिट घोषित करने के बाद उन्हें वापस पाकिस्तान लौटना था। संघीय कैबिनेट के निर्देशों पर मामले में पाकिस्तान के अटॉर्नी जनरल ने श्री शरीफ के परिवार के खिलाफ कोर्ट में दायर हलफनामे का उल्लंघन करने के आरोप में कार्रवाई शुरू करने के लिए की लाहौर उच्च न्यायालय में अपील की है।

अटॉर्नी जनरल कहा कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री शहबाज शरीफ और नवाज शरीफ ने अदालत के समक्ष वापस लौटने का हलफनामा दिया था।
उन्होंने से कोर्ट अपील की कि मेडिकल बोर्ड याचिकाकर्ता द्वारा उच्च न्यायालय के समक्ष पेश किए गए दस्तावेजों की जांच करे और पूर्व प्रधानमंत्री के सभी दिए गए तथ्यों और सार्वजनिक गतिविधियों को देखते हुए इनका मूल्यांकन करे।

उन्होंने कोर्ट में कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री उच्च न्यायालय के समक्ष पेश किए किए गए हलफनामे के अनुसार पाकिस्तान वापस आने के लिए फिट थे।
एजीपी कार्यालय ने कहा कि इस मामले में हाई कोर्ट के आदेश के मुताबिक कार्रवाई होगी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper