मुख्यमंत्री ने दिव्यांगजन को कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण वितरित किये

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी में टी-20 नेशनल दिव्यांग क्रिकेट टूर्नामेंट-2021 के समापन समारोह में प्रतिभागी खिलाड़ियों को पुरस्कार वितरित किए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने दिव्यांगजन को कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण भी वितरित किये। इस अवसर पर उन्होंने दिव्यांगजन को 175 ट्राईसाइकिल, 30 व्हीलचेयर, 39 कान की मशीन, 31 आई0डी0 किट, 20 ब्रेल किट, 10 स्मार्ट केन, 10 छड़ी, 20 बैसाखी एवं 11 कैलीपर सहित कुल 345 कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण दिव्यांगजन को वितरित किए।

ज्ञातव्य है कि प्रधानमंत्री के जनसेवा के 20 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में 17 सितम्बर से 07 अक्टूबर, 2021 तक सेवा और समर्पण कार्यक्रम आयोजित किया गया। दिव्यांगजन में खेल-कूद के प्रोत्साहन हेतु 04 से 07 अक्टूबर, 2021 तक सिगरा स्थित डॉ0 सम्पूर्णानन्द स्पोर्ट्स स्टेडियम में 04 दिवसीय टी-20 नेशनल दिव्यांग क्रिकेट टूर्नामेंट-2021 का आयोजन किया गया था। टी-20 नेशनल दिव्यांग क्रिकेट टूर्नामेंट-2021 तथा दिव्यांगजन को कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण वितरण कार्यक्रम का आयोजन प्रदेश के दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग द्वारा किया गया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रदेशवासियों को शारदीय नवरात्रि की हार्दिक बधाई के साथ-साथ विजयादशमी की अग्रिम शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि देशवासियों का सौभाग्य है कि वर्ष 2014 व 2019 में काशी से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सांसद के रूप में प्रतिनिधित्व किया। काशी के सांसद एवं देश के यशस्वी प्रधानमंत्री व दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता हैं। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के रूप में सेवा के 20 वर्ष पूर्ण हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन एवं नेतृत्व में देश नित्य नई ऊंचाइयों को छूते हुए भारत को दुनिया की महाशक्ति बनाने की ओर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि दिव्यांगजन ने अपनी दिव्यांगता को खेल के सामने बाधा नहीं बनने दिया। जज्बा और हौसला हो तो बड़ी से बड़ी बाधा दूर की जा सकती है। मुख्यमंत्री ने खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि टोक्यो में आयोजित पैरालम्पिक में भारत से 54 खिलाड़ियों ने प्रतिभाग किया था, जिसमें खिलाड़ियों ने 05 स्वर्ण, 08 रजत एवं 06 कांस्य सहित कुल 19 पदक जीते। इन सभी खिलाड़ियों ने प्रधानमंत्री के संकल्प ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ को आगे बढ़ाने में योगदान दिया है। इसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार शीघ्र ही उनको सम्मानित करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने विकलांग की जगह दिव्यांग शब्द दिया। विगत 07 वर्ष में देश में दिव्यांगजन को कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण वितरित करने के अनेक कार्यक्रम आयोजित किये गये हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की प्रेरणा से कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण वितरण कार्यक्रम पूरे देश में बड़े पैमाने पर आयोजित किये गये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार 10 लाख से अधिक दिव्यांगजन को पेंशन दे रही है। वर्तमान सरकार ने पेंशन की धनराशि बढ़ाने का भी कार्य किया है। दिव्यांगजन को शासन द्वारा सभी सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं। दिव्यांगजन की शादी-विवाह के लिए सरकार सहयोग प्रदान कर रही है। उन्हें हर प्रकार से प्रोत्साहित किया जा रहा है। सिविल सर्विसेज में उनकी कैटेगरी को बढ़ा कर विभिन्न क्षेत्रों में उन्हें सेवा के अवसर उपलब्ध कराये जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुख्यमंत्री एवं प्रधानमंत्री के रूप में जनसेवा के 20 वर्ष पूर्ण हो रहे हैं। प्रधानमंत्री के जनसेवा का यह 20 वर्ष भारतीय राजनीति को एक नई दिशा देने वाले, एक नए भारत की संकल्पना को साकार करने वाले, भारत को वैश्विक मंच पर मजबूती के साथ स्थापित करने वाले और भारत को सर्वांगीण विकास के मार्ग पर ले जाने वाले 20 वर्ष हैं। उन्होंने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अच्छे स्वास्थ्य एवं दीर्घायु की कामना करते हुए कहा कि उनका मार्गदर्शन व नेतृत्व लंबे समय तक इस देश को मिलता रहे।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने टी-20 नेशनल दिव्यांग क्रिकेट टूर्नामेंट-2021 के विजेता साउथ जोन व उपविजेता नॉर्थ जोन को पुरस्कार स्वरूप ट्रॉफी एवं चेक वितरित किए। गौरतलब है कि यह आयोजन ऑल इण्डिया क्रिकेट एसोसिएशन फॉर फिजिकली चैलेन्ज्ड, मुम्बई के सौजन्य से किया गया है। इस टूर्नामेन्ट में एसोसिएशन से अधिकृत 06 राष्ट्रीय स्तर की टीमें-ईस्ट, वेस्ट, नॉर्थ, साउथ, सेन्ट्रल एवं प्रेसिडेन्ट एकादश ने प्रतिभाग किया।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने डॉ0 सम्पूर्णानन्द स्पोर्ट्स स्टेडियम में कोविड टीकाकरण केंद्र का शुभारंभ किया तथा 07 कोविड टीका एक्सप्रेस वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के निर्देशन व सहयोग से केयर इंडिया की ओर से कोविड टीका एक्सप्रेस चलायी गयी हैं। यह टीका एक्सप्रेस वैन घर-घर जाकर 18 वर्ष से ऊपर के लोगों का कोविड टीकाकरण करेगी। इसके साथ ही, नगर के दो स्थानों में मेगा कोविड टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं, जिसमें लोगों का टीकाकरण किया जाएगा। इन दो निर्धारित कोविड टीकाकरण केन्द्रों पर लोगों की सुविधाओं के दृष्टिगत प्रातः देर रात्रि तक लोगों का टीकाकरण किया जाएगा। इसी प्रकार, जनपद में 20 कोविड टीका एक्सप्रेस का संचालन किया जाएगा। इसमें दो-दो वाहन प्रति विकास खण्ड एवं नगर क्षेत्र में चार वाहन चलाये जाएंगे। इन टीका एक्सप्रेस वाहनों के माध्यम से दूर-दराज के क्षेत्र एवं शहरी क्षेत्र की मलिन बस्तियों में लोगों का टीकाकरण किया जाएगा।

इस अवसर पर पिछड़ा वर्ग एवं दिव्यांगजन सशक्तिकरण मंत्री अनिल राजभर, पर्यटन एवं धर्मार्थ कार्य राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ0 नीलकंठ तिवारी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper