कैप्टन अमरिंदर बीजेपी के साथ काम करने को उत्सुक, कृषि कानून वापसी के बाद कही बड़ी बात

 कृषि कानून रद्द करने के पीएम मोदी के एलान करते पंजाब की सियासत ने नई करवट लेनी शुरू कर दी है पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस फैसले पर खुशी जताते हुए ये साफ किया है कि वे भाजपा के साथ काम करने को उत्सुक हैं। इस बयान के बाद ये लग रहा है कि 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव में भाजपा और कैप्टन मिलकर लड़ेंगे।

कैप्टन ने ट्वीट किया कि केंद्र सरकार के इस फैसले से न केवल किसानों को बड़ी राहत मिली है बल्कि पंजाब की प्रगति का मार्ग प्रशस्त हुआ है।

मैं किसानों के विकास के लिए भाजपा के साथ मिलकर काम करने के लिए उत्सुक हूं। मैं पंजाब के लोगों से वादा करता हूं कि मैं तब तक चैन से नहीं बैठूंगा, जब तक मैं हर एक आंख से आंसू नहीं पोछूंगा।

राकेश टिकैत बोले, अभी वापस नहीं होगा आंदोलन, संसद से कानून वापसी के बाद फैसला

कैप्टन ने कहा कि आज पंजाब में हम सभी के लिए बहुत बड़ा दिन है। मैं पिछले एक साल से ज्यादा समय से केंद्र के सामने इस मामले को उठा रहा था

और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से भी मिलकर अनुरोध किया कि वे हमारे अन्नदाता की आवाज पर ध्यान दें। मैं खुश हूं कि उन्होंने किसानों की बात सुनी और हमारी चिंताओं को समझा।

इससे पूर्व कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कानून वापस लेने के एलान पर ट्वीट किया था कि गुरु नानक जयंती के पवित्र अवसर पर हर पंजाबी की मांगों को मानने

और तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद। मुझे विश्वास है कि केंद्र सरकार किसानी के विकास के लिए मिलकर काम करती रहेगी।  

गौरतलब है कि अमरिंदर सिंह ने कुछ दिन पहले ही कांग्रेस छोड़ दी और अपनी नई पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस बना ली है। 

Related Articles

Back to top button
E-Paper