भड़काऊ भाषा मामले में दो अन्य के खिलाफ भी मामला दर्ज

उत्तराखंड के हरिद्वार में तीन दिवसीय धर्म संसद में भड़काऊ भाषण देने के मामले में दो अन्य आरोपियों के नाम दर्ज किए गए हैं। अभी तक इस मामले में पाचं लोगों को आरोपी बनाया जा चुका है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि उत्तरी हरिद्वार के वेद निकेतन में आयोजित तीन दिवसीय धर्मसंसद में वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण त्यागी, संत धर्मदास, साध्वी अन्नूपूर्णा भारती को नामजद करने के बाद अब पुलिस ने डासना काली मंदिर के मंहत एवं जूना अखाड़े के महामंडलेश्वर स्वामी यति नरसिंहानंद और धर्मराज सिंधू को भी मुकदमे में नामजद कर दिया है।

इस मामले में अब तक पांच लोग नामजद हो चुके हैं। उल्लेखनीय है कि हरिद्वार के खड़खडी स्थित वेद निकेतन में 17 से 19 दिसंबर तक धर्म संसद आयोजित हुई। जिसमें भड़काऊ भाषण का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इसके बाद ज्वालापुर निवासी गुलबहार कुरैशी की शिकायत पर पुलिस ने उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी के खिलाफ धार्मिक उन्माद फैलाने का मामला दर्ज किया था।

यूपीएससी परीक्षा में उत्‍तराखंड की बेटी ने किया कमाल, पूरे देश में हासिल की दूसरी रैंक

गढ़वाल डीआईजी केएस नगन्याल ने बताया कि हरिद्वार में हुई धर्म संसद में गलत बयानबाजी का आरोप लगाया गया है। इस मामले में हरिद्वार में मुकदमा भी दर्ज है। मुकदमा दर्ज करवाने वाले संप्रदाय के लोगों का आरोप है कि इस मामले की निष्पक्ष जांच और कार्रवाई नहीं हो रही है। इसी को देखते हुए अब इस मामले की जांच के लिए विशेष टीम का गठन किया गया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper