Chanakya Niti : लोगों की इस एक बात से प्रभावित होकर कभी ना करें ये गलती

Chanakya Niti

आचार्य चाणक्य (Chanakya Niti) की नीतियां और विचार बहुत ही कठीन होते हैं। आज के भागदौड़ भरी जिंदगी में इन विचारों को भले ही नजरअंदाज कर दें लेकिन ये जीवन का सत्य है। आचार्य चाणक्य (Chanakya Niti) ने इंसान को प्रभावित करने वाली हर चीज का बहुत ही सूक्ष्मता से अध्ययन किया था। आज का ये विचार दूसरों की राय पर आधारित है।

दूसरों की राय से प्रभावित होकर तुम कभी अपने अंदर की आवाज को खो मत देना।’ आचार्य चाणक्य

आचार्य चाणक्य के अनुसार इंसान को हमेशा अपने अंदर की आवाज को तवज्जो देना चाहिए। कई बार ऐसा होता है कि इंसान दूसरों की बात को अपने ऊपर इस कदर हावी होने देता है कि अपनी अंतरआत्मा को खत्म कर देता है।  ऐसा भी नहीं है कि आप दूसरों की राय ना सुनें। दूसरों की राय जरूर सुनें। ऐसा जरूरी नहीं है कि हमेशा सामने वाला आपको गलत राय देगा।

चाणक्य कहते हैं कि कई बार ऐसा होता है कि किसी काम को करने में आपका जी घबराने लगता है। आपको अंदर से ऐसी फीलिंग आती है कि ऐसा करना ठीक नहीं है या फिर ऐसा करना ठीक है। दोनों ही परिस्थितियों में वहीं करे जो आपका दिल कहे। इसी वजह से आचार्य चाणक्य ने कहा है कि दूसरों की राय से प्रभावित होकर तुम कभी अपने अंदर की आवाज को खो मत देना।

Related Articles

Back to top button
E-Paper