यूपी: मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह का हुआ आयोजन, 30 जोड़ों ने लिए सात फेरे

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन उद्यान विभाग नर्सरी परिसर विकास भवन में रविवार को समाज कल्याण विभाग द्वारा किया गया। जिसमें 30 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे। नव-दम्पतियों को सांसद, विधायक, डीएम ने आर्शीवाद प्रदान किया है।

सांसद डॉ चंद्रसैन जादौन ने कहा कि सभी धर्मों का परस्पर सम्मान करते हुए केंद्र, प्रदेश सरकार, वर्ग-जाति, मजहब की दीवारों को तोड़कर कार्य कर रही है। आज विवाह मंडप में 24 मुस्लिम एवं 6 हिंदू जोड़ों का वैवाहिक जीवन में प्रवेश हो रहा है। “कबूल है, कबूल है, कबूल है के साथ ही अग्नि को साक्षी मानकर भी फेरे लिए जा रहे हैं”। विधायक शिकोहाबाद डाॅ मुकेश वर्मा ने कहा कि गरीब माता-पिता की बेटियों के हाथ पीले करने की चिंता को मुख्यमंत्री ने जाना है, अब बेटियों के विवाह का खर्चा सरकार ने उठाकर उन्हें इस चिंता से मुक्त कर दिया है।

बंगाल में तय है तृणमूल का पतन और भाजपा का उत्थान : स्मृति ईरानी

जिलाधिकारी चंद्रविजय सिंह ने कहा कि आज के इस कार्यक्रम में अनोखा संगम है, एक ही पंडाल में हिंदू-मुस्लिम वैवाहिक कार्यक्रम सम्पन्न हो रहे हैं, जो कि संविधान की मूल भावना के अनुरूप है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण अभी तमाम जोड़ों की शादी की तारीख आगे बढ़ गई हैं, शीघ्र ही और वृहद कार्यक्रम जनपद में आयोजित किया जाएगा।सामूहिक विवाह के माध्यम से फिजूलखर्ची नहीं हो रहीं है तथा दहेज प्रथा पर भी अंकुश लगाया गया है। प्रदेश सरकार द्वारा लाभार्थियों को 35,000 रूपये कन्या के खाते में, 10,000 रूपये का सामान तथा 6,000 रूपये कार्यक्रम के आयोजन में खर्च कर कुल 51,000 प्रदान किए जाते हैं। सभी पात्र इस योजना में शीघ्र ही लाभान्वित हों।

इस अवसर पर जिला समाज कल्याण अधिकारी डॉ प्रज्ञा शंकर, जिला उद्यान अधिकारी विनय यादव एवं अन्य सम्बंधित अधिकारीगण आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper